England expected Jofra Archer against Steve Smith in 2nd Ashes Test

इंग्लैंड तेज गेंदबाज जोफ्रा आर्चर की मौजूदगी में अपने गेंदबाजी अटैक में बदलाव के साथ उतरेगा और टीम को उम्मीद है कि वो बुधवार से लार्ड्स में शुरू हो रहे दूसरे टेस्ट में ऑस्ट्रेलिया के स्टार बल्लेबाज स्टीव स्मिथ को जल्द आउट करके एशेज सीरीज बराबर करने में सफल रहेंगे।

इंग्लैंड में 18 साल बाद एशेज सीरीज जीतने की कवायद में जुटे ऑस्ट्रेलिया ने स्मिथ की शानदार पारियों से एजबेस्टन में पहले टेस्ट में 251 रन से जीत दर्ज की। गेंद से छेड़छाड़ मामले में 12 महीने के बैन के बाद वापसी कर रहे स्मिथ ने दोनों पारियों में शतक जड़ा।

इंग्लैंड ने पहला एशेज टेस्ट गंवाने के बाद सिर्फ दो बार सीरीज जीती है। पहली बार 1981 में इयान बॉथम ने अपने शानदार प्रदर्शन से टीम को जीत दिलाई थी जबकि दूसरी बार 2005 में इंग्लैंड ने 2-1 से रोमांचक जीत दर्ज की थी।

जस्टिन लैंगर को यकीन, लॉर्ड्स में बड़ी पारी खेलेंगे डेविड वार्नर

एजबेस्टन में हार के दौरान इंग्लैंड के सबसे सफल टेस्ट गेंदबाज जेम्स एंडरसन पिंडली की चोट के कारण सिर्फ चार ओवर गेंदबाजी कर पाए और वो लार्ड्स में होने वाले दूसरे टेस्ट से भी बाहर हो गए हैं।

एंडरसन की गैरमौजूदगी में इंग्लैंड ने आर्चर को टेस्ट डेब्यू कराने की तैयारी कर ली है। आर्चर ने इसी मैदान पर पिछले महीने विश्व कप फाइनल में शानदार सुपर ओवर फेंकते हुए इंग्लैंड को खिताब दिलाया था।

टीम इंडिया में जगह पाने की लड़ाई को लेकर परेशान नहीं हैं अश्विन

इंग्लैंड इस मैच में बाएं हाथ के स्पिनर जैक लीच को उतारेगा जिनहोंने पिछले महीने लॉर्ड्स पर आयरलैंड के खिलाफ एकमात्र टेस्ट में जीत के दौरान करियर की सर्वश्रेष्ठ 92 रन की पारी खेली थी। एजबेस्टन में लचर प्रदर्शन के बाद ऑफ स्पिनर मोईन अली को टीम से बाहर कर दिया गया है।

‘क्रिकविज’ के विश्लेषण के अनुसार बाएं हाथ के स्पिनर स्मिथ का कमजोर पक्ष हैं जिनके खिलाफ उनका औसत 34 . 90 है जबकि उनका कुल औसत 63 के करीब है। ऑस्ट्रेलिया के कोच जस्टिन लैंगर ने हालांकि ऐसे किसी भी आंकड़े को तवज्जो देने से इनकार कर दिया