इंग्लिश तेज गेंदबाज क्रिस वोक्स (Chris Woakes) ने सोमवार को दिए बयान में उन खबरों को सिरे से खारिज किया जिसमें कहा जा रहा था कि इंग्लैंड के क्रिकेटर सख्त कोरोनोवायरस नियमों की वजह से ऑस्ट्रेलिया के एशेज दौरे से पीछे हट सकते हैं।

इंग्लैंड और वेल्स क्रिकेट बोर्ड ने हाल ही में खिलाड़ियों के साथ चर्चा के बाद एशेज दौरे को “सशर्त मंजूरी” दी है। जिसके बाद रविवार को जो रूट की अगुवाई में 17 सदस्यीय टीम का ऐलान किया गया।

इससे पहले खबरें थी कि एशेज को रद्द कर दिया जाएगा क्योंकि सख्त कोविड-19 नियमों और दिशानिर्देशों की वजह से इंग्लैंड के खिलाड़ियों और उनके परिवारों को ऑस्ट्रेलिया दौरे पर नहीं जाना चाहते थे।

इन खबरों पर प्रतिक्रिया देते हुए इंग्लैंड के दिग्गज इयान बॉथम ने कहा था कि कुछ खिलाड़ी “सबसे बड़ी परीक्षा नहीं देना चाहते”। हालांकि, वोक्स ने इससे साफ इंकार किया और बायो सिक्योर बबल में रहने के प्रभावों पर बात की।

कोरोनोवायरस महामारी के कारण अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेटरों को लगातार बायो बबल के अंदर महीनों तक होटलों में रहना पड़ रहा है।

वोक्स ने कहा, “इसमें बात में कभी कोई संदेह नहीं था कि हर कोई (ऑस्ट्रेलिया) जाने और (एशेज) खेलने के लिए उत्सुक था, लोग इस बात को लेकर सुनिश्चितता चाहते हैं कि एक बार जब हम वहां पहुंच जाएं तो जीवन कैसा होगा। मुझे नहीं लगता कि कोई भी कोविड के पीछे छुपने की कोशिश कर रहा है।”

उन्होंने कहा, “इंग्लैंड टीम में खिलाड़ियों का एक समूह है जिन्हें ऑस्ट्रेलिया जाने और एशेज सीरीज जीतने की उम्मीद है। ये बहुत बड़ा है। ये अभी भी टॉप सीरीज है और हर कोई इस बात को जानता है।”