England skipper Eoin Morgan announced his retirement from international cricket
Twitter

इंग्लैंड के लिमिटेड ओवर टीम के कप्तान इयोन मोर्गन ने इंटरनेशनल क्रिकेट से संन्यास का ऐलान कर दिया है। 35 वर्षीय मोर्गन पिछले कुछ महीनों से खराब बल्लेबाजी फॉर्म और फिटनेस से जूझ रहे थे। हाल ही में नीदरलैंड्स के खिलाफ तीन मैचों की वनडे सीरीज में वह दो बार खाता भी नहीं खोल पाए। इसके बाद वह तीसरे मैच में वह ‘ग्रोइन इशू’ के चलते मैदान पर नहीं उतरे। मोर्गन की कप्तानी में इंग्लैंड ने साल 2019 में पहली बार 50 ओवर का वर्ल्ड कप जीता था।

इंग्लैंड क्रिकेट ने ट्वीट करते हुए इयोन मोर्गन के योगदान के लिए शुक्रिया अदा किया। इंग्लैंड क्रिकेट ने लिखा, “रिकॉर्ड ब्रेकर, हिस्ट्री मेकर, हमारे महानतम। थैंक्यू मोर्गन।”

इयोन मोर्गन ने रिटायरमेंट का ऐलान करते हुए कहा, “मैंने जो हासिल किया है, उस पर मुझे बहुत गर्व है, लेकिन जो मैं सबसे ज्यादा संजो कर रखूंगा और सबसे ज्यादा याद रखूंगा, वे यादें हैं जिन्हें मैंने कुछ सबसे महान लोगों के साथ बनाया है जिन्हें मैं जानता हूं।”

इयोन मोर्गन ने इंग्लैंड के लिए 126 वनडे और 72 T20I मैचों में कप्तानी की। उनकी कप्तानी में इंग्लैंड टीम को 126 वनडे मैचों में से 76 में जीत जबकि 40 में हार का सामना करना पड़ा। उनकी गिनती इंग्लैंड के लिमिटेड ओवर फॉर्मेट के सबसे सफल कप्तानों में होती है।

मोर्गन ने वैसे तो 2006 में आयरलैंड की ओर से डेब्यू किया लेकिन तीन साल बाद 2009 में इंग्लैंड की ओर से खेलने का फैसला किया। मोर्गन के नाम 248 वनडे में 7701 रन और 115 T2OI में 2458 रन दर्ज हैं। हालांकि टेस्ट में मोर्गन को ज्यादा मौके नहीं मिले और सिर्फ 16 टेस्ट ही खेल पाए जिसमें उन्होंने 700 रन बनाए।