लॉर्ड्स में मिली शानदार जीत के बाद इंग्लैंड के खिलाफ तीसरे टेस्ट मैच में टीम इंडिया को एक पारी और 76 रन से करारी हार का सामना करना पड़ा। हेडिंग्ले में खेले जा रहे मैच के चौथे दिन भारतीय टीम को 278 के स्कोर पर ऑलआउट कर इंग्लैंड ने पांच मैचों की सीरीज में 1-1 से बराबरी कर ली है।

इंग्लैंड की जीत के नायक रहे युवा तेज गेंदबाज ओली रॉबिनसन, जिन्होंने टेस्ट करियर में पांच विकेट हॉल दर्ज किया। रॉबिनसन ने 26 ओवर में 65 रन देकर पांच विकेट लिए, जिसमें भारतीय कप्तान विराट कोहली का विकेट भी शामिल रहा।

मैच के चौथे दिन बल्लेबाजी करने उतरे कप्तान कोहली और चेतेश्वर पुजारा तीसरे दिन की लय को बरकरार नहीं रख सके। दिन की पहली सफलता रॉबिनसन को मिली जिन्होंने 91 रन बनाकर खेल रहे पुजारा को एलबीडब्ल्यू आउट किया।

पुजारा के पवेलियन लौटने के बाद विकेटों की झड़ी लग गई। अर्धशतक बना चुके कोहली एक बार फिर बाहर जाती गेंद खेलने की कोशिश में स्लिप पर कैच आउट हुए। उप कप्तान अजिंक्य रहाणे (10) और रिषभ पंत (1) भी सस्ते में पवेलियन लौट गए।

ऑलराउंडर रवींद्र जडेजा ने 25 गेंदो पर 30 रनों की एक मनोरंजक पारी खेली लेकिन मैच तब तक भारत के हाथ से निकल चुका था। दिन के 100वें ओवर में मोहम्मद सिराज को आउट कर ओवरटन ने टीम इंडिया को 278 पर ढेर किया। जिसके साथ इंग्लैंड ने तीसरा टेस्ट मैच अपने नाम कर लिया।

मैच के पहले दिन टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने उतरी टीम इंडिया मात्र 78 रन पर ऑलआउट हो गई। भारत के लिए सबसे ज्यादा स्कोर 19 रहा जो कि सलामी बल्लेबाज रोहित शर्मा का रहा। हालांकि दूसरी पारी में रोहित ने 59 रन की संघर्षपूर्ण पारी खेली।

टीम इंडिया को 78 रन पर ढेर करने के बाद इंग्लैंड ने कप्तान जो रूट की 121 रनों की धमाकेदार पारी के दम पर 432 रन का स्कोर खड़ा किया था।