इंग्लैंड और न्यूजीलैंड (England vs New Zealand) के बीच 2-14 जून के बाद 2 टेस्ट मैचों की सीरीज खेली जानी है, जिसकी शुरुआत से पहले इंग्लैंड क्रिकेट टीम (England Cricket Team) ने एक खास अपील की है. दरअसल इंग्लैंड ने न्यूजीलैंड (New Zealand) के खिलाफ जून में होने जा रही घरेलू टेस्ट सीरीज के वक्त ‘बायो बबल’ (Bio-Bubble) शब्द का इस्तेमाल करने की बजाय ‘टीम इंवायरमेंट’ (Team Environment) शब्द इस्तेमाल करने का अनुरोध किया है. ब्रिटिश मीडिया की रिपोर्ट के अनुसार, टीम का मानना है कि इससे बायो बबल से जो निगेटिव बातें जुड़ी हुई हैं, वह दूर होंगी और साथ ही खिलाड़ी कैंप में रहने के दौरान सुरक्षित को आरामदायक महसूस करेंगे.

‘द गार्जियन’ एक रिपोर्ट में कहा गया है, “भारत के साथ सीरीज के खत्म होने के दो महीने के गैप के बाद और आईपीएल में शामिल रहे खिलाड़ियों की गैर मौजूदगी रहने की संभावनाओं को देखते हुए क्रिस सिल्वरवुड का कोचिंग स्टाफ और टीम बबल की जगह पर टीम इंवायरमेंट शब्द का इस्तेमाल करने का अनुरोध करेगा.” रिपोर्ट में आगे कहा गया है कि यह एक छोटा सा बदलाव है, लेकिन उम्मीद है कि इससे उन्हें आगे मदद मिलेगी.

England vs New Zealand, Test Series Full Schedule:

2-6 जून – पहला टेस्ट, लॉर्ड्स (दोपहर साढ़े 3 बजे से)

10-14 जून – दूसरा टेस्ट, बर्मिंघम (दोपहर साढ़े 3 बजे से)

बता दें कि न्यूजीलैंड के खिलाफ टेस्ट सीरीज में इंग्लैंड के उन खिलाड़ियों को स्थान मिलना मुश्किल है, जो आईपीएल खेलकर वतन लौटे हैं. दरअसल इंग्लैंड एंड वेल्स क्रिकेट बोर्ड आईपीएल में खेलने वाले क्रिकेटर्स को न्यूजीलैंड के खिलाफ टेस्ट सीरीज में नहीं उतारना चाहता है.

अगर ऐसा होता है तो जोस बटलर, जॉनी बेयरस्टो, क्रिस वोक्स, सैम कर्रन और मोईन अली जैसे खिलाड़ी दो जून से न्यूजीलैंड के खिलाफ दो टेस्ट मैचों की शृंखला नहीं खेल सकेंगे. बता दें कि इन खिलाड़ियों का पृथकवास इस सप्ताह के आखिर में खत्म होगा, जबकि लॉडर्स पर पहला टेस्ट शुरू होने में दो सप्ताह ही बचे हैं.