पाकिस्तान के बाएं हाथ के तेज गेंदबाज मोहम्मद आमिर को गुरुवार को कोरोना वायरस के लिए दूसरी जांच में नेगेटिव आने के बाद इंग्लैंड में राष्ट्रीय टीम से जुड़ने की मंजूरी मिल गई.

आमिर केवल क्रिकेट के छोटे प्रारूप में ही खेलते हैं. पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (पीसीबी) ने विज्ञप्ति में कहा, ‘पीसीबी आमिर और मालिशिये मोहम्मद इमरान को जल्द से जल्द इंग्लैंड भेजने का इंतजाम कर रहा है ताकि वे डर्बीशर में ट्रेनिंग शिविर में जुड़ सकें.’

आमिर सिर्फ लिमिटेड ओवर्स की क्रिकेट में खेलते हैं 

आमिर (28) ने पिछले साल टेस्ट क्रिकेट से अचानक संन्यास की घोषणा कर राष्ट्रीय टीम के मुख्य कोच और मुख्य चयनकर्ता मिस्बाह उल हक सहित कई लोगों को निराश कर दिया था. पूर्व खिलाड़ियों की राय है कि अगर आमिर फिट और उपलब्ध हैं तो इंग्लैंड के खिलाफ टेस्ट सीरीज के लिए उनके नाम पर विचार किया जाना चाहिए.

दूसरे बच्चे के जन्म के कारण दौरे से हट गए थे 

पाकिस्तान की टीम इस समय इंग्लैंड के दौरे पर है जहां उसे मेजबान टीम के खिलाफ 3 टेस्ट और इतने ही मैचों की सीरीज खेलेगी. आमिर ने हाल में टीम में शामिल होने के लिए खुद को उपलब्ध बताया था. बाएं हाथ का यह तेज गेंदबाज इससे पहले अपने दूसरे बच्चे के जन्म के कारण दौरे से हट गया था.

टीम के मुख्य कोच मिस्बाह-उल-हक चाहते थे कि पेसर हारिस राउफ की जगह आमिर को टीम में शामिल किया जाए. राउफ का छह बार कोविड-19 परीक्षण हुआ जिसमें से वह पांच बार पॉजिटिव पाए गए. उनके पांचवें परीक्षण का नतीजा निगेटिव आया था लेकिन छठे परीक्षण में फिर से पॉजिटिव पाए गए.