live cricket score, live score, live score cricket, india vs england live, india vs england live score, ind vs england live cricket score, india vs england 1st test match live, india vs england 1st test live, cricket live score, cricket score, cricket, live cricket streaming, live cricket video, live cricket, cricket live rajkot
नौ नवंबर से शुरू हो रहा है इंग्लैंड बनाम भारत टेस्ट सीरीज का पहला मैच। © Getty Images

इंग्लैंड के भारत दौरे से एक हफ्ते पहले पूर्व इंग्लैंड क्रिकेटर ग्रीम स्वॉन ने बड़ा बयान दिया है। नौ नवंबर से राजकोट में होने वाले पहले टेस्ट मैच से पहले स्वॉन ने इंग्लैंड क्रिकेट बोर्ड की स्पिन गेंदबाजी की तरफ लापरवाह रवैये को लेकर चिंता जताई है। उनका मानना है कि इंग्लैड टीम के पास प्रभावशाली स्पिनर्स नहीं है साथ ही ऐसे बल्लेबाज भी इस टीम में नहीं है जो स्पिन को खेल सकें। ग्रीम स्वॉन के इस बयान पर इंग्लैंड टीम को ध्यान जरूर देना चाहिए क्योंकि भारतीय मैदानों पर स्पिन गेंदबाजी घातक साबित हो सकती है जब भारत के पास अश्विन जैसा गेंदबाज भी मौजूद है। इंग्लैंड दौरे पर नही खेलेंगे रोहित शर्मा, पूरी बात जानने के लिए क्लिक करें

इंग्लैंड टीम के बेहतरीन स्पिनर्स में से एक ग्रीम स्वॉन ने अपने करियर में 255 टेस्ट विकेट लिए हैं और कई बार टीम के लिए मैच विनर बने हैं। उनका मानना है कि उनकी इस सफलता में उनके जोड़ीदार मौंटी पनेसर का भी हाथ है। इस बारें में उन्होने कहा” मैं और मौंटी एक ही घरेलू मैदान पर खेला करते थे। फिर मैं नॉटिंघमशॉयर आ गया ताकि बिना टर्निंग वाली विकेट पर गेंदबाजी का अभ्यास कर सकूं।” इस बयान से उनका इशारा शायद भारत की स्पिन जोड़ी अश्विन-जडेजा की ओर था। एक साथ यह दोनों गेंदबाज इंग्लैंड टीम के लिए खतरा साबित हो सकते हैं। स्वॉन ने आगे कहा “इंग्लैंड टीम स्पिन को लेकर गंभीर नहीं है और इसका सबसे बड़ा सबूत यह है कि हमारे पास अंतर्राष्ट्रीय स्तर के स्पिनर्स नहीं है। हमारे पास बेहतरीन खिलाड़ियों के साथ एक बेहतरीन टीम है फिर भी हम भारत में बुरी तरह हारेंगे जिसकी वजह यह है कि हमारे यहां स्पिनर्स को तीसरे दर्जे के नागरिक की तरह समझा जाता है।”

स्वॉन ने इस बात पर भी इशारा किया कि इंग्लैंड टीम नौ महीने के भारत दौरे पर बिना किसी फुल टाइम स्पिनर कोच के आई है। उन्होने इस बात पर नाराजगी जताते हुए कहा “इस टीम में स्पिनर्स को संवारने और निखारने के लिए कोई नहीं हैं। इंग्लैंड क्रिकेट की शुरूआत से ही यह सुविधा टीम में नहीं है। टीम में बल्लेबाजी, गेंदबाजी, फील्डिंग और फिटनेस के लिए स्टॉफ है पर स्पिन गेंदबाजों के लिए एक फुल टाइम कोच नहीं है। इसी वजह से टीम की बल्लेबाजी भी स्पिन के खिलाफ कमजोर है।” भारत दौरे पर इंग्लैंड की टीम पूर्व पाकिस्तानी ऑफ स्पिनर सकलेन मुश्ताक के साथ आई है जिन पर स्पिनर्स को बेहतर बनाने का जिम्मा है लेकिन स्वॉन का मानना है कि इससे कोई फर्क पड़ने वाला नहीं है।