जो रूट (Joe Root) की कप्तानी में बेहतरीन प्रदर्शन कर रही इंग्लैंड ने श्रीलंका को टेस्ट सीरीज में 2-0 से पीटकर एक नई उपलब्धि अपने नाम कर ली है. इंग्लैंड ने गॉल टेस्ट मैच की जीत के साथ विदेशी धरती पर लगातार अपनी 5वीं टेस्ट जीत दर्ज की है. 107 साल बाद उसने यह इतिहास दोहराया है. इंग्लैंड ने पिछली बार लगातार 5 या उससे ज्यादा टेस्ट मैच 1911 से 1914 के बीच जीते थे. तब उसने विदेशों में लगातार 7 टेस्ट मैच जीते थे. लेकिन अपना पिछला रिकॉर्ड तोड़ने से पहले उसके सामने भारत जैसी मजबूत टीम चुनौती बनाकर खड़ी है.

श्रीलंका दौरे पर गई इंग्लैंड ने अपने दोनों टेस्ट मैच गॉल मैदान पर खेले और दोनों में ही मेजबान टीम को शिकस्त दी. इससे पहले इस साल इंग्लिश टीम ने 2020 की शुरुआत में साउथ अफ्रीका के खिलाफ लगातार 3 टेस्ट मैच जीते थे. तब इंग्लिश टीम ने केप टाउन में पहला टेस्ट 189 रन से, पोर्ट एलिजाबेथ में दूसरा टेस्ट पारी और 53 रन से जबकि जोहान्सबर्ग में तीसरा टेस्ट 191 रन से जीता था.

इसके बाद इंग्लैंड ने इस साल श्रीलंका को पहले टेस्ट में 7 विकेट से और दूसरे टेस्ट में 6 विकेट से मात दी है. अब इंग्लिश टीम का अगला पड़ाव भारत है, यहां वह 4 टेस्ट मैच की सीरीज खेलेगी. भारत की टीम अभी ऑस्ट्रेलिया को उसके घर में 2-1 से मात देकर लौटी है और वह आईसीसी टेस्ट रैंकिंग में नंबर 2 पर है, जबकि इंग्लैंड चौथे स्थान पर है. ऐसे में यह सीरीज बेहद रोचक होने की उम्मीद है.

इंग्लैंड ने इससे पहले 107 साल पहले, विदेशी धरती पर लगातार 7 टेस्ट मैच जीते थे. उस समय उसने साउथ अफ्रीका में 3 और ऑस्ट्रेलिया में दिसंबर 1911 तथा जनवरी 1914 में 4 टेस्ट जीते थे.

इनपुट: IANS