इयोन मॉर्गन © AFP
इयोन मॉर्गन © AFP

कटक। इंग्लैंड के अधिकांश खिलाड़ी अब तक आईपीएल की नीलामी के लिए उपलब्ध नहीं रहे हैं लेकिन वनडे कप्तान ईयोन मोर्गन का कहना है कि इस बार हालात दीगर होंगे। यह पूछने पर कि क्या उन्हें नीलामी का इंतजार है, मोर्गन ने कहा, “बिल्कुल। इस बार कई खिलाड़ी नीलामी के लिए उपलब्ध होंगे। उम्मीद है कि उनका चयन होगा और वे अधिकांश मैच खेल सकेंगे।” जोस बटलर की ही तरह मोर्गन का मानना है कि आईपीएल ऐसा मंच है जिससे इंग्लैंड के खिलाड़ियों को अपने खेल को निखारने में मदद मिल सकती है। उन्होंने कहा,”इससे अपने कौशल का विकास किया जा सकता है। भारत को उसकी धरती पर हराना कठिन है और इसके लिए अपार कौशल की जरूरत है। आईपीएल खेलने से जरूर फायदा मिलेगा।” भारत के हाथों वनडे श्रृंखला गंवाने के बावजूद मोर्गन ने सकारात्मक पहलुओं पर गौर करने के लिए कहा चूंकि पांच महीने के भीतर इंग्लैंड में चैम्पियंस ट्राफी खेली जानी है। उन्होंने कहा,”हम श्रृंखला गंवा चुके हैं लेकिन चैम्पियंस ट्राफी की तैयारी के मद्देनजर यह उम्दा श्रृंखला रही। आधुनिक 50 ओवरों का क्रिकेट काफी चुनौतीपूर्ण है।” ये भी पढ़ें: इस भारतीय बल्लेबाज की अंतिम एकादश से छुट्टी तय, ये खिलाड़ी लेगा जगह!

कटक वनडे में भारत ने 50 ओवरों में 6 विकेट पर 381 का विशाल स्कोर बनाया। जवाब में इंग्लैंड टीम 366/8 का स्कोर ही बना पाई और मैच 15 रनों से हार गई। विराट कोहली की बतौर सर्वकालिक कप्तान यह पहली सीरीज जीत है। तीन मैचों की वनडे सीरीज में टीम इंडिया ने 2-0 से बढ़त ले ली है। सीरीज का तीसरा और अंतिम वनडे मैच 22 नवंबर को कोलकाता में खेला जाएगा। वहीं 26 नवंबर से तीन मैचों की टी20I सीरीज भी इन्हीं दो टीमों के बीच शुरू हो रही है। कटक वनडे में टीम इंडिया की शुरुआत फिर से खराब रही और ओपनर शिखर धवन व केएल राहुल सस्ते में आउट हो गए। धवन पिछले लंबे समय से खराब फॉर्म में चल रहे हैं। ऐसे में तीसरे वनडे में उनकी अंतिम एकादश से छुट्टी की जा सकती है। उनकी जगह अजिंक्य रहाणे को टीम में शामिल किया जा सकता है।