England’s rotation plan under fire as Moeen Ali leaves India tour; Joe Root apologizes for wrong statement
मोइन अली,जो रूट © Getty Images

इंग्लैंड टेस्ट टीम कप्तान जो रूट ने मोईन अली से अपने उस बयान के लिए माफी मांगी है जिसमें उन्होंने कहा था कि इस ऑलराउंडर ने भारत के खिलाफ दूसरे टेस्ट मैच के बाद स्वदेश लौटने का विकल्प खुद से चुना है। जबकि वास्तव में ये इंग्लैंड टीम की रोटेशन पॉलिसी का हिस्सा है। जिसके बाद इंग्लैंड क्रिकेट बोर्ड की रोटेशन पॉलिसी आलोचकों के निशाने पर है।

‘मिरर’ समाचार पत्र की रिपोर्ट के अनुसार रूट ने ‘स्वदेश लौटने का विकल्प चुनने‘ के अपने बयान के लिए टीम होटल में मोईन से माफी मांगी। ब्रिटेन के कुछ अन्य समाचार पत्रों ने भी इस तरह की रिपोर्ट प्रकाशित की है।

रूट ने  कहा, ‘‘मोईन ने स्वदेश लौटने का विकल्प चुना है। हमने शुरू में ही स्पष्ट किया था कि अगर खिलाड़ियों को लगता है कि वो बायो सिक्योर बबल से बाहर निकलना चाहते हैं तो उनके पास इसका विकल्प है।’’

IND vs ENG: तीसरे टेस्ट के लिए इंग्लैंड टीम में शामिल हुए बेयरस्टो-वुड, मोइन अली को आराम

बता दें भारत दौरे पर खेले गए दूसरे टेस्ट मैच में हार के बाद इंग्लैंड टीम ने तीसरे मैच के लिए अली को आराम देने के साथ जॉनी बेयरस्टो और मार्क वुड को टीम में शामिल किया है। इससे पहले चेन्नई में ही खेले गए पहले टेस्ट मैच में जीत के बावजूद जेम्स एंडरसन और जॉस बटलर जैसे खिलाड़ियों को दूसरे मैच के लिए प्लेइंग इलेवन से बाहर रखा गया था।

बटलर भी अली की तरह पहले टेस्ट मैच के बाद स्वदेश लौट आए हैं और सीमित ओवरों की सीरीज के लिए वापस भारत जाएंगे। बेन स्टोक्स और जोफ्रा आर्चर को हाल में श्रीलंका दौरे के लिए दिया गया था। जिस वजह से कई पूर्व दिग्गजों ने ईसीबी के इस नीति पर सवाल उठाए थे।

बेयरस्टॉ को भारत के खिलाफ पहले दो टेस्ट मैच के लिए टीम में नहीं रखने की पूर्व क्रिकेटरों ने कड़ी आलोचना की थी। श्रीलंका दौरे के बाद उन्हें भी विश्राम दिया गया था, हालांकि वो भारत के खिलाफ होने वाले आखिरी दो टेस्ट मैचों के लिए टीम का हिस्सा हैं।