English cricketer Jack Leach wants bowling exploits to define career After health setbacks
जैक लीच (AFP)

एशेज सीरीज के हेडिंग्ले में इंग्लैंड के बल्लेबाजी नायक बने जैक लीच चाहते हैं कि हालिया स्वास्थ्य समस्याओं के बाद उनकी टीम और फैंस उन्हें उनकी गेंदबाजी के लिए याद रखें। लीच ने हेडिंग्ले टेस्ट में बेन स्टोक्स के साथ मिलकर मैचविनिंग साझेदारी बनाई थी। लेकिन उन्होंने 10 टेस्ट मैचों में 34 विकेट भी लिए थे।

एजेस बाउल में ट्रेनिंग कर रहे लीच ने मीडिया से बातचीत में कहा, “मैं जब बूढ़ा हो जाउंगा तो पब में लोगों से ये कहूंगा कि मैंने इंग्लैंड के लिए सलामी बल्लेबाजी की थी। लेकिन मैं अपनी गेंदबाजी पर गर्व करता हूं: इसलिए मैं ऐसा करने के लिए चुना गया हूं। मैं मैच के आखिरी दिन विपक्षी टीमों को आउट करना चाहता हूं औ इसी के लिए याद किया जाना चाहता हूं।”

उन्होंने कहा, “हर कोई हेडिंग्ले की बात करता है और उसे याद ना करना मुश्किल होगा लेकिन मैं अपनी गेंदबाजी पर कड़ी मेहनत कर रहा हूं और बल्लेबाजी पर भी। अगर मैं अपनी बल्लेबाजी के लिए ही याद किया जाता हूं तो वो ही सही।”

इंग्‍लैंड को उन्‍हीं की धरती पर हरा सकता है पाकिस्‍तान, टेस्‍ट कप्‍तान बोले- हमें बस करना होगा ये काम

लीच क्रोहन डिजीज से पीड़ित हैं, ये एक ऐसी बीमारी है जिससे आंत में परेशानी होती है। जिस वजह से इंग्लैंड के न्यूजीलैंड और दक्षिण अफ्रीका दौरों पर उनकी जगह डॉमिनिक बेस स्पिनर के तौर पर टीम की पहली पसंद बन गए।

न्यूजीलैंड में उन्हे सेप्सिस की वजह से टीम से अलग कर दिया गया था और फिर दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ सीरीज से पहले वो बग से पीड़ित हो गए। वो घर लौट आए और फिर कॉफ में इंजरी से पीड़ित हो गए लेकिन इसके बावजूद उन्हें श्रीलंका दौरे पर जाने वाले टेस्ट स्क्वाड में चुना गया।

इस पर उन्होंने कहा, “अगर आपको वो समस्याएं होती जो मुझे दक्षिण अफ्रीका में थी तो आपको लगता कि ‘ये तो कोरोना वायरस है’ शायद हमें कभी पता नहीं चल पाएगा।”

इंग्लिश क्रिकेटर ने आगे कहा, “मैंने अपने सलाहकार और डॉक्टरों से बात की है और उन्होंने महसूस किया है कि जिस दवा पर मैं हूं वो मुझे थोड़ा ज्यादा जोखिम में डालती है, लेकिन सर्दियों में मैं जिन चीजों से गुजरा उससे साफ है कि मैं इन चीजों को अच्छी तरह से लड़ सकता हूं। लेकिन इस दवा से मुझे दूसरों के मुकाबले कम खतरा है। मेरा क्रोहन नियंत्रण में है, जो मेरे लिए बहुत अच्छा है।”