English pacer Ollie Robinson is free to play cricket immediately: ECB
ओली रॉबिनसन (Twitter)

इंग्लैंड और वेल्स क्रिकेट बोर्ड ने शनिवार को ऐलान किया कि विवादित ट्वीट मामले में सस्पेंड हुए तेज गेंदबाज ओली रॉबिनसन आठ मैचों के बैन के बाद अब मैदान पर उतरने के लिए तैयार हैं। 27 साल के रॉबिनसन भारत के खिलाफ होने वाली आगामी टेस्ट सीरीज में चयन के लिए उपलब्ध होंगे।

याद दिला दें कि इस सीमर को 2012 और 2014 के बीच किए गए नस्लवादी और सेक्सिस्ट ट्वीट्स के लिए जून में न्यूजीलैंड के खिलाफ पहले टेस्ट में डेब्यू करने के बाद सस्पेंड कर दिया गया था। साथ ही रॉबिनसन पर 3,200 पाउंड का जुर्माना भी लगाया गया।

शनिवार को जारी किए बयान में बोर्ड की ओर से कहा गया, “30 जून की सुनवाई के बाद, अनुशासन आयोग पैनल ने फैसला किया कि रॉबिन्सन को आठ मैचों के लिए बैन जाना चाहिए, जिनमें से पांच मुकाबले दो साल के लिए निलंबित हैं।”

ऑस्ट्रेलियाई कोच ने माना भारतीय खिलाड़ियों का लोहा, कहा- उनके सामने हम कमजोर पड़ सकते हैं

बयान में आगे कहा गया, “उन तीन मैचों के संबंध में जो तत्काल बैन के अंतर्गत आते हैं, पैनल ने न्यूजीलैंड के खिलाफ दूसरे टेस्ट से इंग्लैंड टीम द्वारा लगाए गए बैन को ध्यान में रखा है, साथ ही ससेक्स के लिए दो टी20 मैच जिनसे रॉबिनसन ने खुद ही अपना नाम वापस ले लिया था। इन कार्यवाही के प्रभाव के बाद रॉबिनसन तुरंत क्रिकेट खेलने के लिए स्वतंत्र हैं।”

पैनल ने कहा कि उन्होंने अपने फैसले पर पहुंचने के लिए कई कारकों को ध्यान में रखा। उन्होंने कहा, “पैनल ने ट्वीट्स की प्रकृति, उनके भेदभाव के प्रभाव और मीडिया में उनके व्यापक प्रसार और दर्शकों की संख्या सभी बातों को ध्यान में रखा।”

बयान में आगे कहा गया, “पैनल ने ये भी माना कि ट्वीट्स पोस्ट किए जाने के बाद काफी समय बीत चुका है और कई व्यक्तिगत संदर्भों से ये साबित हुआ है पैनल के सामने उपस्थित होने वाले रॉबिनसन पहले से काफी अलग व्यक्ति हैं।”

‘जिन लोगों ने कभी गली क्रिकेट में भी कप्तानी नहीं की वो अब विराट कोहली को सलाह दे रहे हैं’

पैनल ने कहा, “इस फैसले के दौरान उनके पछतावे और सहयोग के साथ-साथ इन ट्वीट्स के खुलासे और इसके परिणामों का उन पर और उनके परिवार पर पड़ने वाले भारी प्रभाव का भी ध्यान रखा गया।”

रॉबिन्सन ने पैनल को बताया कि वो अगले दो सालों में सोशल मीडिया के उपयोग और नस्लवादी-विरोधी प्रशिक्षण कार्यक्रमों में बोलने के लिए उनकी सिफारिश का पालन करने और अपने अनुभव को आकर्षित करने के लिए तैयार हैं।