Eoin Morgan knows the emotions Jofra Archer will experience facing West Indies for the first time
जोफ्रा आर्चर

लगभग एक दशक पहले आयरलैंड क्रिकेट छोड़ इंग्लैंड के लिए अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट खेलने की शुरुआत करने वाले इयोन मोर्गन अच्छी तरह जानते हैं कि वेस्टइंडीज के खिलाफ मैच से पहले ऑलराउंडर जोफ्रा आर्चर कैसा महसूस कर रहे होंगे।

बारबाडोस में जन्में आर्चर के पिता इंग्लिश हैं। चार साल पहले जब वेस्टइंडीज की अंडर-19 टीम में आर्चर को मौका नहीं मिला तो उन्होंने इंग्लैंड का रुख किया। अब वो इंग्लैंड की जर्सी पहनकर शुक्रवार को आईसीसी विश्व कप 2019 में वेस्टइंडीज टीम का सामना करेंगे।

इस पर इंग्लिश कप्तान मोर्गन ने कहा, “जब आप उस खिलाड़ी के खिलाफ खेलते हो जिसके खिलाफ आप एज-ग्रुप लेवल पर खेल चुके हैं, तो ये अजनबियों के खिलाफ खेलने की बजाय काफी हद तक अपने साथियों के खिलाफ क्लब क्रिकेट खेलने जैसा लगता है, जो कि मुश्किल है। इस स्थिति में रह चुके शख्स के तौर पर मैं कह सकता हूं ये अलग महसूस होता है। उसे एहसास नहीं होगा कि कैसा महसूस होता है जब तक कि वो खेलेगा नहीं। अगर मुझे उससे बात करने की जरूरत पड़ी तो मैं जरूर करूंगा लेकिन अभी तक मैंने ऐसा नहीं किया है।”

‘एक रन बचाने के लिए चोटिल होने को भी तैयार हैं भारतीय खिलाड़ी’

मोर्गन कप्तान होने के नाते आर्चर को हरसंभव समर्थन देने के लिए तैयार हैं लेकिन उन्हें पूरा यकीन है कि वो इस स्थिति को अच्छे से संभाल लेगा। कप्तान ने कहा, “मुझे यकीन है कि वो इसे संभाल लेगा जैसे उसने अब तक टूर्नामेंट में सब कुछ संभाला है। उसने अब तक हर चुनौती का अच्छी तरह से सामना किया है। इसलिए देखते हैं कि ये कैसा जाता है, हम कुछ बहुत अलग देखने की उम्मीद नहीं कर रहे हैं।”

इंग्लिश कप्तान ने आगे कहा, “जोफ्रा बेहद अलग है क्योंकि उसे अब तक जिस भी हालात का सामना करना पड़ा है, खासकर कि मैदान पर, उसने उन्हें पार किया है। वो अब सीख रहा है, वो युवा है, उसके पास प्रतिभा है और ये हमारे लिए अच्छा है। ये अच्छी बात है कि वो इंग्लैंड की जर्सी में है।”