यूरोपियन फुटबाल चैम्पियनशिप 2016 में गुरुवार के मुकाबले
फोटो साभार www.tasnimnews.com

यूरोपियन फुटबाल चैम्पियनशिप 2016 में गुरुवार को दो मुकाबले खेले जाएंगे। टूर्नामेंट के ग्रुप-ई में ही ये दोनों मैच होंगे। पहला मुकाबला लिली मेट्रोपोले में भारतीय समयानुसार (बुधवार देर रात 12.30 बजे) इटली और आयरलैंड के बीच खेला जाएगा। वहीं, दूसरा मुकाबला नीस के स्टेड दे नीस में इसी समय पर स्वीडन और बेल्जियम के बीच खेला जाएगा।

यूरो-2016 के सभी मैचों का प्रसारण भारत में सोनी सिक्स और सोनी ईएसपीएन चैनल पर होगा। इससे पहले मंगलवार देर रात चार मुकाबले खेले गए। मार्सेली में खेले गए मैच में पोलैंड ने यूक्रेन को 1-0 से मात देकर पहली बार नॉकआउट दौर में प्रवेश किया। इसी समय पर पेरिस के पार्क दे प्रिंसेस में खेले गए मैच में जर्मनी ने उत्तरी आयरलैंड को 1-0 से हराया।

टूर्नामेंट के ग्रुप- डी में भी दो मुकाबले खेले गए। पहले मुकाबले में तुर्की ने चेक गणराज्य को 2-0 से हराया। वहीं, दूसरे मुकाबले में क्रोएशिया ने स्पेन को 2-1 से मात दी।

वहीं यूरोपियन फुटबाल चैम्पियनशिप 2016 में पोलैंड ने मंगलवार को हुए मुकाबले में यूक्रेन को हराकर टूर्नामेंट के नॉकआउट दौर (अंतिम-16) में प्रवेश कर लिया है। मार्सेली के स्टेड वेलोड्रोम में हुए मुकाबले में पोलैंड के लिए याकूब ब्लास्चेकोवस्की ने गोल दागा और टीम ने प्रतिद्वंद्वी टीम पर 1-0 से जीत हासिल करते हुए पहली बार नॉकआउट दौर में प्रवेश किया।

मुकाबले की शुरुआत से ही पोलैंड के खिलाड़ी काफी मजबूती के साथ खेलते नजर आ रहे थे। टीम की ओर से रोबर्ट लिवांडोस्की और मिलिक ने दबाव बनाना शुरू किया। पहले हाफ में दोनों टीमों की ओर से काफी संघर्ष के बाद भी कोई गोल नहीं हुआ।

मुकाबले के दूसरे हाफ में 46वें मिनट में पियोतर जिलिंस्की के स्थान पर पोलैंड टीम के लिए मैदान पर याकुब को बुलाया गया और इसी पल के बाद मुकाबला बदल गया।

याकूब ने 54वें मिनट में पोलैंड के लिए पहला गोल दागा और टीम को 1-0 से बढ़त दिलाई। यूक्रेन दूसरे हाफ में भी लाख कोशिशों के बावजूद प्रतिद्वंद्वी टीम के खिलाफ एक भी गोल नहीं दाग पाया और हार गया। इस मुकाबले में मिली जीत के साथ ही पोलैंड ने पहली बार टूर्नामेंट के नॉकआउट दौर में प्रवेश किया है।

टूर्नामेंट के ग्रुप-सी में उत्तरी आयरलैंड के पास अभी तीन अंक हैं और उसके पास अब भी तीसरे स्तर की सबसे बेहतरीन टीम बनकर नॉकआउट दौर में प्रवेश करने का मौका है। टूर्नामेंट में लगातार तीन हार झेलने के बाद यूक्रेन नॉक-आउट दौर से बाहर हो गया है।