विराट कोहली © AFP
विराट कोहली © AFP

नई दिल्ली। ऑस्ट्रेलिया को तीन विश्व कप में जीत दिलाने में अहम भूमिका निभाने वाले विश्व के महानतम विकेटकीपरों में से एक एडम गिलक्रिस्ट का मानना है कि भारतीय कप्तान विराट कोहली जिस तरह से खेल रहे हैं, उससे बल्लेबाजी का हर रिकॉर्ड खतरे में हैं। गिलक्रिस्ट ने हालांकि कहा कि विराट के सामने अभी विदेशी जमीं पर अच्छा प्रदर्शन करने की चुनौती है।

राष्ट्रीय राजधानी में ‘रॉयल स्टैग बैरल सेलेक्तट परफेक्स स्ट्रोक्स’ कार्यक्रम के मौके पर गिलक्रिस्ट ने संवाददाताओं से कहा, “मेरा मानना है कि खेल के हर प्रारूप में बल्लेबाजी के हर आंकड़े और रिकॉर्ड खतरे में हैं। विराट जिस तरह से रन बना रहे हैं, उनके पास जो निरंतरता है, वो शानदार है। उनके सामने हालांकि अभी चुनौती आना बाकी है। उन्हें दक्षिण अफ्रीका जाना और भी विदेशी दौरे करने हैं, लेकिन वो विश्व स्तर के बल्लेबाज हैं। अगर वह रिकॉर्ड तोड़ भी नहीं पाते हैं तो उनके काफी करीब जरूर पहुंचेंगे।”

विराट ने हाल ही में ऑस्ट्रेलिया के रिकी पोंटिंग को पीछे छोड़ते हुए वनडे क्रिकेट में सबसे ज्यादा शतक लगाने वाले बल्लेबाजों की सूची में दूसरे स्थान पर पहुंच गए हैं। विराट के वनडे क्रिकेट में 32 शतक हो गए हैं उनसे आगे अब बस भारत के दिग्गज सचिन तेंदुलकर हैं जिनके नाम वनडे में 49 शतक हैं।

गिलक्रिस्ट ने धोनी की तरीफ करते हुए कहा कि उनके अनुभव की भारतीय टीम को काफी जरूरत है जो टीम में युवा खिलाड़ियों के साथ संतुलन बनाने में मदद करता है।

2007 विश्व कप फाइनल में शतक लगाने वाले इस बल्लेबाज ने कहा, “वह काफी विविधतापूर्ण बल्लेबाज हैं। वो तीन से सात नंबर के बीच कहीं पर भी खेल सकते हैं और अपना प्रभाव छोड़ सकते हैं। इस भारतीय टीम के पास कई विकल्प और मौके हैं। धौनी भी उन विकल्पों में से एक हैं। मुझे लगता कि टीम को धोनी के विशाल अनुभव से ज्यादा फायदा होगा। भारतीय टीम के युवा खिलाड़ी काफी आक्रामक और जुनूनी हैं ऐसे में अनुभव के साथ संतुलन बनाना अच्छा है।”

ग्रिलक्रिस्ट से जब पूछा गया कि धोनी के बाद भारतीय टीम को उनका विकल्प ढूंढ़ना मुश्किल होगा। इस पर पूर्व ऑस्ट्रेलियाई कप्तान ने कहा कि इसमें समय जरूर लगेगा? दिग्गज विकेटीपर ने कहा, “वह पहले ही टेस्ट से संन्यास ले चुके हैं। उनके बाद उनकी जगह को काफी अच्छे से भरा जा चुका है, लेकिन इन चीजों में समय लगता है। धोनी जब जाएंगे तब वह अपने पीछे एक सुनापन छोड़ कर जाएंगे जिसे भरने में समय लगेगा।”

पहले टी20 में वॉकी-टॉकी पर बात करते दिखे विराट कोहली, मचा हंगामा
पहले टी20 में वॉकी-टॉकी पर बात करते दिखे विराट कोहली, मचा हंगामा

उन्होंने धोनी को सर्वश्रेष्ठ विकेटकीपरों में से एक बताया, “धोनी ने जिस तरह से अपनी हर एक जिम्मेदारी को अच्छे से निभाया है। एक विकेटकीपर, बल्लेबाज, कप्तान वह हर चीज में सफल रहे हैं।” ऑस्ट्रेलिया को इसी महीने अपने घर में इंग्लैंड के खिलाफ एशेज सीरीज खेलनी हैं। इंग्लैंड इस सीरीज में अपने स्टार हरफनमौला खिलाड़ी बेन स्टोक्स के बिना उतरेगी। गिलक्रिस्ट ने कहा कि स्टोक्स के बिना इंग्लैंड को संतुलन बनाने में परेशानी होगी।

पूर्व ऑस्ट्रेलियाई कप्तान ने कहा, “स्टोक्स शानदार खिलाड़ी हैं। उनमें एक खिलाड़ी नहीं तीन खिलाड़ी हैं। वह उस टीम के बेहद अहम खिलाड़ी हैं। उनके बाहर जाने से इंग्लैंड को अपनी टीम में संतुलन बैठाना में परेशानी जरूर होगी।”