Experience and talent give us fine balance says AB de Villiers

इंटरनेशनल क्रिकेट से संन्यास लेने के बाद इंडियन टी20 लीग में एबी डिविलियर्स अपना दम दिखाने को बेताब हैं। बैंगलुरू की टीम अब तक एक भी ट्रॉफी नहीं जीती है और डिविलियर्स टीम को विजेता बनते देखना चाहते हैं। उनका मानना है कि इस बार की टीम अनुभव और टैलेंट की वजह से काफी संतुलित नजर आ रही है।

डिविलियर्स ने टाइम्स ऑफ इंडिया के कॉलम में लिखा, ”यह बैंगलुरू की टीम के स्मार्ट और मजबूत होने का वक्त है। जरूरत है लगातार अच्छा प्रदर्शन करते हुए टूर्नामेंट में अपनी छाप छोड़ने की। इस साल का पहला मैच मौजूदा चैंपियन चेन्नई के खिलाफ उसके घर है। यह बिल्कुल आदर्श मौका है हमारे पास अपनी गहरी छाप छोड़ने का। हमने इस हफ्ते काफी अच्छी तैयारी की है और हम काफी उत्सुक हैं।
उन्होंने टीम के बेहतर प्रदर्शन करने की पांच वजह बताई।

पढ़ें:- इंडियन टी20 लीग में इन 8 कप्तानों में होगी चैंपियन बनने की जंग

1. गैरी कर्स्टन- टीम के मुख्य कोच गैरी कर्स्टन लंबा अनुभव और जानकारी लेकर टीम के साथ जुड़े हैं। उनका ध्यान खेल के हर एक पहलू पर होता है जो बहुत ही शानदार है। मैंने उनके साथ पहले काम किया है। वह टीम को गाइड करने के लिए बेहद मोटिवेटेड (प्रेरित) और डिटरमाइंड (दृढ़ संकल्प) हैं जिसे देखकर बहुत अच्छा लग रहा है।

2. सिर्फ क्रिकेट के लिहाज से ही नहीं बल्कि अनुभव के आधार पर भी टीम में संतुलन है। ऐसा बैंगलुरू की पिछली टीमों के साथ नहीं था। गेंद और बल्ले के बीच का संतुलन अच्छा है। अनुभव और युवा के बीच का संतुलन भी सही लग रहा है।

3. हेनरिच क्लासेन मिडिल ऑर्डर में काफी अहम साबित हो सकते हैं। वह एक बड़े मैच की मानसिकता रखते हैं। बल्ले से बेहद शानदार हैं और स्पिन के अच्छे खिलाड़ी।

4. शिमरोन हेटमेयर भी टीम के लिए कुछ नया लेकर आए हैं। पिछले कुछ महीनों में उन्होंने विंडीज टीम के लिए मैच फिनिशर की भूमिका निभाई है। टी20 क्रिकेट के वह एक बेहतर खिलाड़ी हैं। गुआना के बाएं हाथ का यह बल्लेबाज नेट्स में शानदार दिख रहा था।

5. हमारी टीम मैदान के बाहर और अंदर सबसे ज्यादा प्रोफेशन टीम की तरह तैयार हुई है। हमारे कप्तान विराट कोहली ने हर समय सही चीज करने के महत्व पर जोर दिया है। ताकि हम अपनी क्षमता के मुताबिक प्रदर्शन करने का खुद बेहतर मौका दे पाए।