Faf du Plessis on AB de Villiers’ last-minute offer- It was way, way too late
एबी डीविलियर्स, फाफ डु प्लेसिस © Getty Images

आईसीसी विश्व कप 2019 में दक्षिण अफ्रीका टीम के खराब प्रदर्शन के बीच पूर्व क्रिकेटर एबी डिविलियर्स की पेशकश की चर्चा हो रही। दरअसल साल 2018 में अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास ले चुके इस खिलाड़ी ने विश्व कप टीम के चयन से ठीक पहले बोर्ड के सामने टूर्नामेंट में हिस्सा लेने की पेशकश की थी जिसे नकार दिया गया। दक्षिण अफ्रीकी टीम के कप्तान फाफ डु प्लेसिस ने साफ कहा कि डिविलियर्स का प्रस्ताव आने तक बहुत देर हो चुकी थी।

सोमवार को वेस्टइंडीज के खिलाफ मैच बारिश की वजह से रद्द होने के बाद मीडिया के सामने आए डु प्लेसिस ने डीविलियर्स के बारे में बात की। उन्होंने कहा, “केवल बातचीत हुई थी, टीम के ऐलान से पहले रात को उसका फोन आया था। ये एक ‘मुझे ऐसा लग रहा है’ वाला कॉल था। मैंने उससे कहा ‘मुझे लगता है कि काफी देर हो चुकी है लेकिन मैं सुबह कोच और चयनकर्ताओं से बात करूंगा’। जब मैंने उनसे बात की तो सभी ने ये माना कि अब 99.99 प्रतिशत तैयार टीम को बदलने के लिए बहुत ज्यादा देर हो चुकी है।”

डु प्लेसिस ने साफ कहा कि इस घटना के बाद उनके और डिविलियर्स की दोस्ती में कोई बदलाव नहीं आया है। उन्होंने कहा, “हम अब भी अच्छे दोस्त हैं। इस घटना से वो नहीं बदला है। सालों पुरानी दोस्ती के लिए एक बहुत छोटी चीज है।”

ICC विश्व कप: जानें कहां देखें बांग्लादेश-श्रीलंका मैच की लाइव स्ट्रीमिंग

डीविलियर्स ने जब पूछा गया कि टूर्नामेंट के बीच डीविलियर्स की वापसी की चर्चा का टीम पर कैसा प्रभाव है, नकारात्मक या सकारात्मक? तो उन्होंने कहा, “मुझे लगता है कि दोनों का मिश्रण। मुझे महसूस हुआ कि खबर सामने आई और पूरी टीम में फैल गई। मुझे नहीं लगता है कि इसका कोई बड़ा प्रभाव पड़ा है। स्पष्टता को लेकर चर्चा हुई थी और ये निश्चित किया गया कि सभी लोग जानते हैं कि क्या चल रहा है और फिर हम आगे बढ़ गए।”

कप्तान ने आगे कहा, “टीम अपने काम पर वापस लौटकर खुश थी लेकिन ये ऐसी चीज है जो आपको लगता है कि ये आपको बना सकती है, आपको अपनी टीम में दिशा दे सकती है और आपको आगे क्या करना है इस पर ध्यान केंद्रित करने का उद्देश्य देती है।” ‘प्रोटियाज अपना अगला मैच 15 जून को अफगानिस्तान के खिलाफ कार्डिफ में खेलेगी।