Failure to win in India not ‘the end of the world’ ; Says Enoch Nkwe
Enoch Nkwe @CSA

दक्षिण अफ्रीका के अंतरिम निदेशक इनोक एनक्वे को लगता है कि अगर टीम भारत दौरे पर जीत हासिल नहीं कर पाई तो दुनिया में सबकुछ खत्म नहीं हो जाएगा।

पढ़ें: बल्लेबाजी के वक्त दबाव या उम्मीदों का बोझ लेकर नहीं उतरता : शुभमन गिल

36 साल के इनोक राष्ट्रीय क्रिकेट टीम के मुख्य कोच, चयनकर्ता और टीम मैनेजर की भूमिका निभा रहे हैं, जिसमें सहायक स्टाफ के अन्य सदस्य उनके अधीन काम करते हैं।

उनका पहला दौरा भारत का होगा जो काफी चुनौतीपूर्ण होगा। इनोक ने अपनी पहली अधिकारिक प्रेस कांफ्रेंस में कहा, ‘मैं समझता हूं कि यह बहुत ही चुनौतीपूर्ण दौरा होगा, लेकिन मुझे पूरा भरोसा है कि हम तुरंत प्रभावित कर सकते हैं।’

उन्होंने कहा, ‘और अगर ऐसा नहीं होता है तो इससे सबकुछ खत्म नहीं हो जाएगा। हर चीज का हमेशा एक बड़ा पहलू होता है।’

दक्षिण अफ्रीका भारत के दौरे की शुरुआत सीमित ओवरों के मैचों के साथ करेगा जिसका पहला मैच धर्मशाला में 15 सितंबर को खेला जाएगा। इसके बाद विशाखापत्तनम में टेस्ट मुकाबले दो से छह अक्टूबर, पुणे में 10 से 14 अक्टूबर और रांची में 19 से 23 अक्टूबर तक खेले जाएंगे जो नव गठित आईसीसी टेस्ट चैम्पियनशिप में टीम के लिए पहला दौरा होगा।

पढ़ें: पीठ में चोट के कारण पूरे सीजन से बाहर हुए इंग्लैंड के पेसर ओली स्टोन

इनोक की भूमिका फुटबॉल में यूरोपीय शैली के मैनेजर की तरह है जो चयन के मामलों में अहम होते हैं। वह भारत के आगामी दौरे के लिये इंग्लिश प्रीमियर लीग के कोच पेप गार्डियोला से प्रेरणा लेंगे।

इनोक ने गार्डियोला के बारे में कहा, ‘वह दूसरे ही स्तर के हैं। ऐसी बहुत सी चीजें हैं जो आप अलग-अलग खेलों से सीख सकते हैं। मैंने उनके काम को देखा है कि वह कैसे अपनी रणनीति का समर्थन करते हैं। वह हमेशा नई सीमाएं निर्धारित करने और नए रिकॉर्ड तोड़ने की कोशिश करते हैं।’