जसप्रीत बुमराह © AFP
जसप्रीत बुमराह © AFP

श्रीलंका के खिलाफ लगातार दूसरे मैच में मैन ऑफ द मैच का खिताब हासिल करने वाले जसप्रीत बुमराह ने मैच के बाद कहा कि जब आप टीम की जीत में अपना योगदान देते हैं तो इससे आपको खुशी होती है। बुमराह ने कहा, ”ये काफी अलग तरह की पिच थी, दूसरे वनडे में हमें धीमी पिच मिली। इस बार इस पिच पर नई गेंद से स्विंग मिल रही थी। मैं पिच पर गेंद को सही जगह फेंक रहा था। मुझे पता था कि अगर मैं सही जगह गेंद को फेंकूंगा तो मैं बल्लेबाजों को परेशान करने में कामयाब जरूर होऊंगा। मुझे नहीं पता कि आखिरी बार किसी भारतीय तेज गेंदबाज ने पांच विकेट कब लिए थे लेकिन ये बहुत अच्छा एहसास है। जब आप टीम की जीत में अपना योगदान देते हैं तो इससे आपको बहुत खुशी मिलती है।”

श्रीलंका के खिलाफ जसप्रीत बुमराह ने शानदार गेंदबाजी की और अब तक के अपने वनडे करियर का सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन किया। बुमराह ने तीसरे वनडे में 10 ओवरों में 27 रन देकर 5 विकेट झटके। बुमराह की शानदार गेंदबाजी की बदौलत भारत ने श्रीलंका को सिर्फ 217 रनों पर ही रोक दिया। बुमराह ने श्रीलंका के खिलाफ तीसरे वनडे में अपनी करियर की सर्वश्रेष्ठ गेंदबाजी की और पहली बार 5 विकेट हासिल किए। ये भी पढ़ें: चौथे, पांचवें वनडे में होंगे भारतीय टीम में कई बदलाव, विराट कोहली ने दिए संकेत

बुमराह ने श्रीलंका के डिकवेला, मेंडिस, थिरिमाने, सिरिवर्दने, दनंजया के विकेट निकालकर पहली बार पांच विकेट झटकने में कामयाबी पाई। बुमराह के गेंदबाजी आंकड़े (10-2-27-5)। रहे। बुमराह ने इससे पहले कभी भी एक मैच में 5 विकेट हासिल नहीं किए थे। बुमराह की शानदार गेंदबाजी और बाद में रोहित शर्मा के शतक, महेंद्र सिंह धोनी के अर्धशतक की बदौलत टीम इंडिया ने श्रीलंका को 6 विकेट से हराकर सीरीज को अपने नाम कर लिया। श्रीलंका ने भारत के सामने जीत के लिए 218 रनों का लक्ष्य रखा था जिसे भारत ने 4 विकेट खोकर ही हासिल कर लिया।