Focussed on process, West captain Rahane starts comeback fight with Duleep Trophy
Twitter/BCCI

चेन्नई। भारतीय बल्लेबाज अजिंक्य रहाणे के लिए राष्ट्रीय टीम में वापसी की डगर आसान नहीं है लेकिन गुरुवार से शुरू हो रहे दलीप ट्रॉफी में वह पूर्वोत्तर क्षेत्र की टीम के खिलाफ जब अनुभवी खिलाड़ियों से सजी पश्चिम क्षेत्र की टीम की अगुवाई करेंगे तो उनका ध्यान अपनी ‘प्रक्रिया (खेल का तरीका)’ पर बने रहने पर होगा।

भारतीय घरेलू क्रिकेट सत्र की शुरुआत दलीप ट्रॉफी के साथ हो रही है जिसे पहले की तरह क्षेत्रीय प्रारूप में खेला जायेगा। खिलाड़ियों की प्रतिष्ठा और अनुभव को देखें तो दोनों टीम के बीच कोई मेल नहीं है। पश्चिम क्षेत्र की टीम में कप्तान रहाणे, पृथ्वी साव, यशस्वी जायसवाल, श्रेयस अय्यर और राहुल त्रिपाठी जैसे स्थापित बल्लेबाज हैं।

इस मैच के दौरान हालांकि सबसे ज्यादा ध्यान रहाणे पर होगा जो राष्ट्रीय टीम में एक बार फिर वापसी की कोशिश करेंगे। उन्होंने मैच की पूर्व संध्या पर कहा, ‘‘ देखिए, मैं अपनी प्रक्रियाओं का पालन करने में विश्वास करता हूं। अभी मेरा ध्यान दलीप ट्रॉफी पर है और पश्चिम क्षेत्र की टीम के लिए अच्छा प्रदर्शन करना है और हम देखेंगे कि भविष्य में क्या होता है।’’

उन्होंने राष्ट्रीय टीम में वापसी से जुड़े सवाल के जवाब में कहा, ‘‘ मैं एक बार में एक मैच पर ध्यान देना पसंद करता हूं। चोट के बाद वापस आने के बाद भविष्य के बारे में ज्यादा सोचने की जगह मौजूदा समय पर ध्यान केंद्रित करना अच्छा है। मैं अच्छा प्रदर्शन करने के लिए तैयार हूं।’’ दिन के एक अन्य मैच में पुडुचेरी में उत्तर क्षेत्र और पूर्व क्षेत्र के बीच बराबरी का मुकाबला होने की उम्मीद है।

अनुभवी मनोज तिवारी की अगुवाई वाली पूर्व क्षेत्र की टीम में अनुभवी और युवा खिलाड़ियों का अच्छा मिश्रण है। टीम को हालांकि शीर्ष क्रम के बल्लेबाज अभिमन्यु ईश्वरन की कमी खलेगी जो न्यूजीलैंड ए के खिलाफ जारी श्रृंखला में भारत ए टीम का हिस्सा हैं। उत्तर क्षेत्र की कमान मनदीप सिंह के पास है जिसमें अंडर-19 विश्व कप जीतने वाले कप्तान यश ढुल भी शामिल हैं। टीम में नवदीप सैनी और सिद्धार्थ कौल जैसे अनुभवी गेंदबाज भी शामिल हैं।

टीमें:

पश्चिम क्षेत्र: अजिंक्य रहाणे (कप्तान), पृथ्वी साव, यशस्वी जायसवाल, श्रेयस अय्यर, हार्दिक तमोरे (विकेटकीपर), शम्स मुलानी, तनुश कोटियन, राहुल त्रिपाठी, सत्यजीत बछव, हेत पटेल, चिंतन गाजा, जयदेव उनादकट, चिराग जानी, अतीत सेठ।

पूर्वोत्तर क्षेत्र: अल बशीद मोहम्मद, अंकुर मलिक, टेची डोरिया, रोंगसेन जोनाथन, ख्रीवित्सो केंस, किशन लिंगदोह, एल किशन सिंघा, बिश्वोरजीत कोंथौजम, जी लालबियाकवेला, टेची नेरी, दीपू संगमा, रेक्स राजकुमार, आशीष थापा, होकेतो झिमोमी (कप्तान) , बॉबी जोथानसंगा।

पूर्व क्षेत्र : मनोज तिवारी (कप्तान), विराट सिंह (उप-कप्तान), नाजिम सिद्दीकी, सुदीप कुमार घरामी, शांतनु मिश्रा, अनुस्टुप मजूमदार, रियान पराग, कुमार कुशाग्र, अभिषेक पोरेल (विकेटकीपर), शाहबाज अहमद, शाहबाज नदीम, ईशान पोरेल, आकाश दीप , मुख्तार हुसैन, मणिशंकर मुरासिंह।

उत्तर क्षेत्र: यश ढुल, ध्रुव शौरी, मनन वोहरा, मनदीप सिंह (कप्तान), हिमांशु राणा, आकाश वशिष्ठ, अनमोल मल्होत्रा, मयंक डागर, पुलकित नारंग, नवदीप सैनी, सिद्धार्थ कौल, जगजीत सिंह, निशांत सिंधू, कामरान इकबाल, विकास मिश्रा।