ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेट में “एक महान व्यक्ति” के रूप में याद किए जाने वाले रॉड मार्श (Rod Marsh) का शुक्रवार को दिल का दौरा पड़ने की वजह से निधन हो गया। 74 साल के मार्श ने ऑस्ट्रेलिया के लिए 96 टेस्ट खेले और बाद में लंबे समय तक टीम के राष्ट्रीय चयनकर्ता रहे।

पिछले हफ्ते एक चैरिटी इवेंट में हिस्सा लेने के बाद उनकी तबियत बिगड़ गई जिसके बाद वो प्रेरित कोमा में थे और शुक्रवार की सुबह एडिलेड के एक अस्पताल में उनका निधन हो गया, उनके परिवार ने पुष्टि की है।

उन्होंने एक बयान में कहा, “पिछले एक हफ्ते से इतने सारे लोगों से हमारे परिवार को मिले प्यार और समर्थन के लिए हम बहुत आभारी हैं। इसने हमें हमारे जीवन के सबसे कठिन समय में ताकत दी है।”

पर्थ में जन्मे मार्श ने 1984 में संन्यास लेने से पहले इंग्लैंड के खिलाफ 1970 में अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में डेब्यू किया था। उन्होंने अपने करियर के दौरान रिकॉर्ड 355 डिसमिल किए थे और समय के महान तेज गेंदबाज डेनिस लिली के खिलाफ 95 रनों की पारी भी खेली थी।

“आयरन ग्लव्स” कहे जाने वाले मार्श ने 92 वनडे मैच भी खेले और 1982 में पाकिस्तान के खिलाफ टेस्ट शतक बनाने वाले पहले ऑस्ट्रेलियाई विकेटकीपर बने।

अपने खेल करियर के बाद, वो ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेट अकादमी के प्रमुख के रूप में खेल से जुड़े रहे, चयनकर्ताओं के अध्यक्ष बनने से पहले रिकी पोंटिंग, एडम गिलक्रिस्ट और जस्टिन लैंगर सहित दर्जनों खिलाड़ियों की मदद की।

उनके पूर्व कप्तान और लंबे समय के दोस्त इयान चैपल (Ian Chappell) ने चैनल नाइन को बताया कि मार्श उन सभी का सम्मान करते थे, जिनके साथ और उनके खिलाफ खेला था।

चैपल ने कहा, “क्रिकेट में उनका प्रभाव काफी व्यापक था इसलिए बहुत सारे लोग थे जो उन्हें जानते थे, और यहां तक ​​कि अगर कोई उन्हें पसंद नहीं करता था, तो वो उनका सम्मान करते थे। वो हमेशा खुश रहता था, उसे हंसी मजाक की अच्छी समझ थी, जो कोई भी उससे मिलता था, वो उसके साथ का आनंद लेता था।”