Former BCCI general manager MV Shridhar passes away
एम वी श्रीधर © Getty Images (File Photo)

हाल में अपने पद से इस्तीफा देने वाले बीसीसीआई के पूर्व महाप्रबंधक एमवी श्रीधर का आज हैदराबाद में उनके निवास पर दिल का दौरा पड़ने के बाद निधन हो गया। श्रीधर 51 साल के थे और लगभग चार साल तक बीसीसीआई के क्रिकेट संचालन प्रभारी रहे थे। उन्होंने पिछले महीने ही अपना पद छोड़ा था।

श्रीधर 1990 के दशक में हैदराबाद टीम के प्रमुख बल्लेबाज और टीम के बेहतरीन कप्तानों में से एक थे। मोहम्मद अजहरूद्दीन की कप्तानी में राष्ट्रीय टीम का हिस्सा रहे श्रीधर ने अब्दुल अजीम के साथ हैदराबाद टीम की बल्लेबाजी की बागडोर संभाली थी। दाएं हाथ के सलामी बल्लेबाज श्रीधर ने हैदराबाद और दक्षिण क्षेत्र के लिए 97 प्रथम श्रेणी मैचों में 48.91 की प्रभावी औसत के साथ 6701 रन बनाए। उनका सर्वोच्च व्यक्तिगत स्कोर 366 रन रहा।

हरभजन सिंह और एंड्रयू साइमंड्स से जुड़े कुख्यात ‘मंकीगेट’ कांड के दौरान ऑस्ट्रेलिया में प्रशासनिक मैनेजर के रूप में काम कर रहे श्रीधर की भूमिका की काफी सराहना की गई थी। श्रीधर पूरी सुनवाई के दौरान मौजूद रहे थे, वह टीम और बोर्ड के बीच कड़ी का काम कर रहे थे।

सानिया मिर्जा-शोएब मलिक के मजाकिया ट्विटर-वॉर में फंसे शादाब खान, मांगनी पड़ी माफी
सानिया मिर्जा-शोएब मलिक के मजाकिया ट्विटर-वॉर में फंसे शादाब खान, मांगनी पड़ी माफी

जुलाई में कप्तान विराट कोहली के साथ मतभेद के कारण अनिल कुंबले के इस्तीफे के बाद श्रीधर को भारतीय क्रिकेट बोर्ड ने वेस्टइंडीज भेजा था। संजय बांगड़ ने कोचिंग की जिम्मेदारी निभाई जबकि श्रीधर को कैरेबियाई देशों में खिलाड़ियों को अच्छी मानसिक स्थिति में रखने और उनकी जरूरतों का ध्यान रखने की जिम्मेदारी सौंपी गई थी।

 

 

श्रीधर हैदराबाद क्रिकेट संघ के सचिव भी रहे थे। उनका यह कार्यकाल काफी विवादास्पद रहा जिस दौरान उन पर कई क्लबों से जुड़े रहने के आरोप लगे। उनके खिलाफ हितों के टकराव के आरोप भी लगाए गए। यही बीसीसीआई के महाप्रबंधक पद से इस्तीफा देने का उनका मुख्य कारण भी था।