पूर्व कप्तान नासिर हुसैन ने कहा है कि इंग्लैंड को एशेज सीरीज के दौरान ऑलराउंडर बेन स्टोक्स की कमी खलेगी। पूर्व कप्तान के अनुसार, बेन स्टोक्स का लगातार अनुपलब्ध रहना इंग्लैंड के लिए चिंता की बात है।

हुसैन ने कहा, “स्टोक्स का उपलब्ध नहीं होना बड़ी चिंता की बात है। इसने इंग्लैंड को चयन में बड़ा सिरदर्द दिया है। उनके बिना टीम को संतुलित रखना मुश्किल है।”

हुसैन का कहना है कि इंग्लैंड ने एशेज के लिए अनुमानित टीम का चयन किया है। इंग्लैंड ने एशेज दौरे के लिए रविवार को 17 सदस्यीय टीम घोषित की।

डेली मेल के लिए लिखे कॉलम में उन्होंने कहा, “इंग्लैंड ने एशेज दौरे के लिए अनुमानित टीम चुनी है और किसी भी अनकैप्ड खिलाड़ी को नहीं लेकर कोई जोखिम नहीं उठाया है। मेरे लिए महमूद और पार्किंसन की अनदेखी करना आश्चर्यजनक रहा जो जोफ्रा आर्चर और ओली स्टोन की अनुपस्थिति में विकल्प दे सकते थे।”

साथ ही पूर्व क्रिकेटर ने कहा कि तेज गेंदबाज साकिब महमूद और लेग स्पिनर मैट पार्किंसन की अनदेखी करना आश्चर्यजनक था। उन्होंने कहा, “मैं डॉम बेस की जगह पार्किंसन की लेग स्पिन पर जाता। अगर पार्किंसन नहीं तो मैसन क्रेन।”

हुसैन ने कहा कि महमूद का चयन इंग्लैंड की मदद करता। उन्होंने साथ ही बल्लेबाज लियाम लिविंगस्टोन के टीम में होने पर हैरानी जताई।हुसैन ने कहा, “क्रिस सिल्वरवुड और जोए रूट चयन में निरंतरता पसंद करते हैं इसलिए इन्होंने दो कैप्ड स्पिनरों को लिया। मुझे लिविंगस्टोन पर भी हैरानी हुई।”