वेस्टइंडीज के लिए महत्वपूर्ण है ब्रावो और पोलार्ड की वापसी: लारा
indianexpress.com

वेस्टइंडीज क्रिकेट टीम के दिग्गज बल्लेबाज ब्रायन लारा का कहना है कि वह अगले माह आस्ट्रेलिया और दक्षिण अफ्रीका के साथ होने वाली त्रिकोणीय श्रृंखला के लिए केरन पोलार्ड और ड्वायन ब्रावो जैसे खिलाड़ियों की टीम में वापसी चाहते हैं। सीएमसी की रिपोर्ट के अनुसार, दो साल पहले वेस्टइंडीज टीम द्वारा भारत दौरे को बीच में छोड़कर जाने पर हुए विवाद के बाद से ही एकदिवसीय अंतर्राष्ट्रीय मैचों के लिए चयनकर्ताओं द्वारा दोनों खिलाड़ियों की अनदेखी की गई है।

लारा का कहना है कि केवल टी-20 अंतर्राष्ट्रीय मैचों के लिए ब्रावो और पोलार्ड को टीम में रखना एक पिछड़ा कदम है। वेस्टइंडीज के पूर्व कप्तान ने बुधवार को कहा, “त्रिकोणीय श्रृंखला के संदर्भ में मेरा मानना है कि यह काफी रोमांचक होने वाली है। आशा है कि हमारे पास पोलार्ड और ब्रावो जैसे खिलाड़ी हों।”

लारा ने आगे कहा, “भले ही हाल ही में इस प्रारूप में नहीं खेल रहे हो, लेकिन ऐसे खिलाड़ी वेस्टइंडीज की किसी भी टीम का महत्वपूर्ण हिस्सा हैं। केवल टी-20 प्रारूप के लिए दोनों को टीम में शामिल करना मेरे अनुसार, वेस्टइंडीज केवल अपना धर्म निर्वाह कर रही है।”

गयाना, सैंट किट्स और नेविस में में तीन से 26 जून तक चलने वाली यह त्रिकोणीय श्रृंखला जुलाई में भारत के खिलाफ खेले जाने वाली चार टेस्ट मैचों की श्रृंखला के लिए एक अभ्यास के रूप में काम करेगा।

अपने करियर में खेले गे 131 टेस्ट मैचों में 11,953 रन बनाने वाले लारा का कहना है कि वेस्टइंडीज को फार्म में चल रही भारतीय टीम के खिलाफ अपना सबसे अच्छा प्रदर्शन देना होगा।

लारा ने कहा, “आपने आस्ट्रेलिया के खिलाफ उनका (भारत) का खेल देखा है और यह केवल भारत में ही नहीं, बल्कि घर के बाहर भी है।”

दिग्गज खिलाड़ी ने आगे कहा, “मेरा मानना है कि घरेलू माहौल में खेलने से कुछ तो फायदा होता ही है। मेरी आशा है कि फिल सिमंस अपना काम कर रहे हैं और अच्छे टेस्ट क्रिकेट के लिए अपने खिलाड़ियों को तैयार कर रहे हैं।”

लारा का कहना है कि वेस्टइंडीज टीम के खिलाड़ियों को अपने टी-20 प्रारूप के खेल के अंदाज को टेस्ट प्रारूप में बदलने की जरूरत है।