Former Indian pacer VRV Singh retires cricket
VRV Singh (Getty Images)

तेज गेंदबाज विक्रम राजवीर सिंह ने इंटरनेशनल क्रिकेट से संन्यास की घोषणा कर दी है। भारत के लिए 5 टेस्ट और दो वनडे मुकाबले खेलने वाले वीआरवी सिंह ने क्रिकेट के सभी फॉर्मेट से संन्यास ले लिया है।

साल 2006 में भारत की तरफ से वनडे डेब्यू करने वाले वीआरवी सिंह ने आखिरी बार 2007 में बांग्लादेश दौरे में टेस्ट खेला था।

इंग्लैंड के खिलाफ जमशेदपुर में वनडे डेब्यू करने वाले वीआरवी को पहले मैच में 5 ओवर की गेंदबाजी करने के बाद एक भी विकेट नहीं मिला था। अपने दूसरे वनडे में भी वह विकेट लेने में नाकाम रहे थे। इसके बाद भारत की तरफ से उनको वनडे मुकाबला खेलने का मौका नहीं मिला।

वेस्टइंडीज के खिलाफ टेस्ट डेब्यू करने वाले इस गेंदबाज ने भारत की तरफ से 5 मैच खेला जिसमें 8 विकेट हासिल किए। वहीं आईपीएल की बात करें तो वीआरवी पंजाब किंग्स इलेवन के लिए खेल चुके है।

क्रिकइंफो से वीआरवी ने कहा, ”मैं वापसी करने की कोशिश करता रहा लेकिन चोट से परेशान रहा। कभी टखना तो कभी पीठ की वजह से परेशान रहा। आप अपने शरीर के साथ धोखा नहीं कर सकते हैं। मेरी सर्जरी हुई, रिहैब में गया …साल 2014 के बाद कुछ सालों तक मैं खेल ही नहीं पाया। मैंने ट्रेनिंग की और 2018 में खेलने की कोशिश की लेकिन ऐसा नहीं कर पाया। इसलिए अपने भविष्य के बारे में सोचने लगा।”

”यह कोई रातो रात लिया फैसला नहीं है। अगर मैं 2018-19 सीजन के लिए फिट ना हो पाउं तो फिर छोड़ देना ही बेहतर होगा। युवराज सिंह ने मेरा उत्साह बढ़ाया, पंजाब क्रिकेट एसोसिएशन ने मेरा काफी समर्थन किया और मैंने अपना बेस्ट दिया। दुर्भाग्य से कुछ नहीं हो पाया तो मैंने सोचा संन्यास लेना ही बेहतर होगा और सोचूं आगे अब क्या करना है।”