Former Indian wicketkeeper Kiran More predicts- Rishabh Pant will play 100 Tests for India
रिषभ पंत (BCCI)

ऑस्ट्रेलिया दौरे पर शानदार बल्लेबाजी करने के बाद युवा भारतीय खिलाड़ी रिषभ पंत ने इंग्लैंड के खिलाफ घरेलू टेस्ट सीरीज में बेहतर विकेटकीपिंग का प्रदर्शन किया है। अक्सर अपनी विकेटकीपिंग के चलते आलोचना झेलने वाले पंत को पूर्व भारतीय विकेटकीपर किरण मोरे से प्रशंसा मिली। पंत की सराहना करते हुए मोरे ने कहा कि ये युवा खिलाड़ी टीम इंडिया के लिए 100 टेस्ट खेलने की क्षमता रखता है।

मोरे ने आईएएनएस से कहा, “जब भी मैं किसी टैलेंटेड लड़के को देखता हूं, मेरी आदत है कि मैं उसका नंबर नोट कर लेता हूं। जब मैंने पंत को देखा तो मैंने अपने आप से कहा कि ये लंबी रेस का घोड़ा है। अब मैं कहता हूं कि पंत 100 टेस्ट खेलने वाले क्रिकेटर हैं। सिर्फ इसलिए नहीं कि उन्होंने मंगलवार को विकेट के पीछे शानदार काम किया था।”

मोरे का कहना है कि उन्हें पंत के कौशल और क्षमता पर कभी कोई शक नहीं था। उन्होंने कहा, “सभी ने उनके विकेटकीपिंग पर सवाल खड़े किए थे, लेकिन मुझे कभी कोई शक नहीं था। जब आप उन्हें भारत में खेलने का मौका नहीं देंगे तो वो कैसे सीखेगा। विदेश में खेलना भारत में खेलने से ज्यादा कठिन है। टर्निग पिचों पर विकेटकीपर का दायित्व अहम होता है। सभी ने देखा है कि पंत क्या कर सकते हैं।”

IPL 2021 Auction Live Streaming: जानें कब और कहां देखें इंडियन प्रीमियर लीग के 14वें सीजन की नीलामी का लाइव प्रसारण

पंत ने भारत के लिए 18 में से 14 टेस्ट विदेश में खेले हैं, जबकि चार टेस्ट भारत में खेले हैं। मोरे ने कहा, “पंत ने कुछ अच्छे कैच लपके और शानदार स्टंपिंग की। हालांकि उन्होंने कुछ मौके गंवाए, लेकिन वो सिर्फ 23 साल के हैं और उनमें सुधार की गुंजाइश है जिससे वो दुनिया के सर्वश्रेष्ठ विकेटकीपर बन सकते हैं।”

मोरे के अलावा भारतीय टीम के एक और पूर्व विकेटकीपर सैयद किरमानी ने भी पंत के इंग्लैंड के खिलाफ दूसरे टेस्ट में प्रदर्शन की सराहना की। उन्होंने कहा, “पंत में काफी कौशल है। उनकी विकेटकीपिंग और स्टंपिंग बेहतरीन है विशेषकर, लॉरेंस का स्टंपिंग बेहतरीन था। मेरे पास अपनी भावना को बयां करने के लिए शब्द नहीं हैं। वो गेम चेंजर साबित होंगे। पंत काफी अच्छे खिलाड़ी हैं, लेकिन उन्हें अभी कुछ चीजों पर काम करने की जरूरत है। उनको अपने रवैये में भी कुछ परिवर्तन करना होगा।”