इंग्लैंड के दिग्गज तेज गेंदबाज जेम्स एंडरसन (James Anderson) इस बात से ‘निराश’ हैं कि उनके घरेलू मैदान ओल्ड ट्रैफर्ड में भारत के खिलाफ खेला जाने वाला पांचवां टेस्ट मेहमान टीम के खेमें में कोविड-19 मामले सामने आने के बाद रद्द कर दिया गया।

एंडरसन ने कहा कि ये सीरीज बेहतर तरीके से खत्म होनी चाहिए थी। भारतीय खेमे के सहायक फिजियो के कोरोना वायरस से संक्रमित होने के बाद टीम के खिलाड़ी मानसिक रूप से मैदान पर उतरने के लिए तैयार नहीं थे। बाद में हुई जांच में हालांकि सभी खिलाड़ियों की रिपोर्ट नेगेटिव आई थी।

39 साल के गेंदबाज इस बात को लेकर भी चिंतित है कि उसे अपने घरेलू मैदान (ओल्ड ट्रैफर्ड) पर एक और टेस्ट मैच खेलने को मिलेगा या नहीं। एंडरसन ने अपने इंस्टाग्राम पेज पर लिखा, ‘‘मैं लंकाशर क्रिकेट में हर किसी के अलावा इस सीरीज के सही अंत को देखने के लिए  टिकटों / ट्रेनों / होटलों के लिए भुगतान करने वाले प्रशंसकों के लिए निराश हूं।’’

 

View this post on Instagram

 

A post shared by James Anderson (@jimmya9)

उन्होंने कहा, ‘‘मुझे उम्मीद है कि यह किसी समय फिर से खेला जाएगा। मैं आशा करता हूं कि मुझे अपने घरेलू मैदान पर एक और अंतरराष्ट्रीय मैच खेलने को मिलेगा, जिससे मुझे काफी लगाव है।’’

कप्तान विराट कोहली के नेतृत्व में भारतीय क्रिकेटरों ने खेलने से इनकार कर दिया क्योंकि उन्हें डर था कि अगर वे कोविड-19 जांच में पॉजिटिव पाये जाते है तो उन्हें 10 दिनों तक इंग्लैंड में पृथकवास में रहना होगा। टेस्ट मैच के रद्द होने के एक दिन बाद भारतीय क्रिकेट खिलाड़ी इंडियन प्रीमियर लीग के लिए दुबई रवाना हो गए।