बाएं हाथ के पूर्व सलामी बल्‍लेबाज गौतम गंभीर (Gautam Gambhir) का मानना है कि सचिन तेंदुलकर (Sachin Tendulkar) वनडे क्रिकेट में मौजूदा कप्‍तान विराट कोहली (Virat Kohli) से आगे हैं. गंभीर का मानना है कि अब वनडे में खेल के नियम बल्‍लेबाज को ज्‍यादा सूट करते हैं, लेकिन सचिन ने अपने लंबे करियर में उस दौरान रन बनाए जब परिस्थितियां ज्‍यादा गेंदबाजों को बढ़त देती थी.

पूर्वी दिल्‍ली से सांसद गौतम गंभीर ने स्टार स्पोटर्स के शो ‘क्रिकेट कनेक्टेड’ में ,‘‘ सचिन तेंदुलकर के समय में केवल एक सफेद गेंद का इस्‍तेामल पारी के दौरान होता था. साथ ही सर्कल के भीतर चार फील्डर होते थे. अब पांच रहते हैं. ऐसे में मैं तेंदुलकर को चुनूंगा.’’

मौजूदा समय में वनडे क्रिकेट में दो सफेद गेंद ली जाती है जबकि तीन पावरप्ले होते हैं.

गंभीर का मानना है कि नियमों में बदलाव का बल्लेबाजों को फायदा मिला. ‘‘विराट कोहली का प्रदर्शन अच्छा रहा लेकिन मेरा मानना है कि नियमों में बदलाव का भी बल्लेबाजों को फायदा मिला है.’’

‘‘नयी पीढ़ी को दो नयी गेंद खेलने को मिल रही है. रिवर्स स्विंग नहीं है और ना ही ऊंगलियों की स्पिन. पचास ओवर तक पांच फील्डर अंदर रहते हैं जिससे बल्लेबाजी आसान हो गई है.’’

बता दें कि सचिन तेंदुलकर ने 463 वनडे खेलकर 49 शतक समेत 18426 रन बनाये. उन्होंने 2013 में वनडे क्रिकेट से संन्यास लिया था. वहीं, विराट कोहली ने 248 वनडे में 11,867 रन बना लिये हैं जिनमें 43 शतक शामिल हैं.