गौतम गंभीर © Getty Images
गौतम गंभीर © Getty Images

ये तो सब जानते हैं कि गौतम गंभीर बल्ले से ही नहीं बल्कि स्वभाव से भी आक्रामक हैं। और गुस्सा उनकी नाक पर रहता है। गंभीर कभी भी किसी भी मुद्दे पर अपनी बात रखने में हिचकते नहीं हैं। हाल ही में गंभीर के गुस्से का एक और नमूना देखने को मिला जब वह भारत के 68वें गणतंत्र दिवस के मौके पर रोडियो स्टेशनों पर बरस पड़े। दरअसल, गणतंत्र दिवस के मौके पर रेडियो स्टेशन देशभक्ति गाने चला रहे थे जिससे गंभीर प्रभावित नहीं हुए और रेडियो स्टेशनों पर जमकर भड़ास निकाली।

गंभीर ने ट्वीट करते हुए कहा, “ये काफी दुखद है कि भारतवासियों की देशभक्ति सिर्फ 15 अगस्त या फिर 26 जनवरी को ही जगती है। हर 15 अगस्त और 26 जनवरी को एफएम पर हमें देशभक्ति गाने सुनने को मिलते हैं, लेकिन इसके अगले दिन सब पहले जैसा हो जाता है। ऐसा क्यों है रेडियो मिर्ची, बिग एफएम?” गंभीर के इस ट्वीट के बाद देश के जाने-माने रेडियो स्टेशन ‘रेडियो मिर्ची’ ने गंभीर पर पलटवार करते हुए कहा, “कुछ पल होते हैं जब इन त्योहारों को मनाने के लिए आपको कुछ खास करने की जरूरत होती है। लेकिन, आपकी टीवी पर हर दिन गणतंत्र दिवस की परेड दिखाएगी तो आपको कैसा लगेगा?’

गंभीर यहीं नहीं रुके उन्होंने फिर से ट्वीट किया और कहा कि अगर रोमांटिक गाने हर दिन चलाए जा सकते हैं तो इसमें कोई दिक्कत नहीं होनी चाहिए कि दिन में कम से कम एक देशभक्ति गाना रेडियो स्टेशन पर चले। गंभीर के इस ट्वीट के बाद रेडियो मिर्ची ने एक वीडियो पोस्ट किया जिसमें दिखाया गया कि लोगों के लिए देशभक्ति के क्या मायने हैं और लोग देशभक्ति के प्रति कितने सजग हैं। वीडियो में दिखाने की कोशिश की गई कि भले ही लोग खुद को देशभक्त कहते हों, लेकिन दिनभर में वे ऐसे कई काम करते हैं जो देशभक्ति नहीं कहलाती। साफ है रेडियो मिर्ची ने खुद को सही साबित करने के लिए इस वीडियो को पोस्ट किया। लेकिन गंभीर का इसके बाद अभी तक कोई जवाब नहीं आया है।