Gautam Gambhir is disappointed with Indian Team managements comment on Rishabh Pant
रिषभ पंत (IANS)

पूर्व भारतीय सलामी बल्लेबाज गौतम गंभीर युवा क्रिकेटर रिषभ पंत को लेकर हो रही बयानबाजी से निराश हैं। 21 साल के पंत फिलहाल क्रिकेट समीक्षकों और फैंस के पसंदीदा टारगेट बने हुए हैं। वहीं टीम के कोचिंग स्टाफ ने भी पंत को लेकर हाल ही में कई तीखे बयान दिए हैं जो गंभीर के गले नहीं उतरे हैं।

टाइम्स ऑफ इंडिया के अपने कॉलम में गंभीर ने लिखा, “निजी तौर पर मैंने विकेटकीपर बल्लेबाज की भूमिका में हमेशा से संजू सैमसन को पंत से आगे रखा है लेकिन टीम मैनेजमेंट के उसके लिए ‘बेपरवाह से लापरवाह’, ‘बैकअप तैयार करने’ जैसे बयान सुनकर निराश हूं। किसी युवा खिलाड़ी को संभालने का ये कोई तरीका नहीं है।”

दिल्ली की रणजी टीम के कप्तान रह चुके गंभीर ने कहा, “हर कोई चाहता है कि वो ‘गंभीर क्रिकेट खेले। मुझे नहीं पता कि इसका क्या मतलब है। लेकिन मुझे ये पता है कि वो लड़का अब रन बनाने के लिए नहीं बल्कि टिके रहने के लिए खेल रहा है। बाहर से ऐसा लग रहा है कि उनकी मानसिकता पूरी तरह से बिखरी हुई है। किसी को उसके कंधे पर हाथ रखकर उसे बताने की जरूरत है कि वो टीम में उसकी जरूरत है।”

नवंबर तक भारतीय जर्सी में नहीं दिखेंगे महेंद्र सिंह धोनी

पंत दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ मोहाली टी20 में मात्र 4 रन बनाकर साधारण सी गेंद पर आउट हो गए थे। हालांकि आज बेंगलुरू में होने वाले मैच में उनके पास आलोचकों को जवाब देने का एक और मौका होगा। गंभीर मानते हैं भारत के लिए तीसरा टी20 मैच जीतना बेहद आसान होगा।

उन्होंने कहा, “मैं भारत के आखिरी टी20 में पूरी तरह से हावी होने की उम्मीद कर रहा हूं। आशा है कि बेंगलुरू की पिच में संतुलन हो। बल्लेबाजों के पक्ष में ज्यादा होना कभी भी अच्छा नहीं दिखता।”