gautam gambhir is not happy with rohit sharmas indian team selection against hong kong in asia cup 2022 match
india vs hong kong

दुबई: एशिया कप 2022 के अपने दूसरे मुकाबले में भारतीय टीम बुधवार को हांगकांग के खिलाफ खेलनी उतरी। हांगकांग के कप्तान निजाकत खान ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी करने का फैसला किया। भारत ने इस मैच में हार्दिक पंड्या को आराम दिया है और उनके स्थान पर ऋषभ पंत को चुना है। पंत का चुना जाना हालांकि फैंस को काफी पसंद आया होगा लेकिन हार्दिक के बाहर होने पर हैरानी भी हुई।

टीम इंडिया के पूर्व सलामी बल्लेबाज गौतम गंभीर भी इस फैसले से काफी हैरान नजर आए। उन्होंने कहा कि वह पंत को तो देखना चाहते हैं लेकिन हार्दिक नहीं बल्कि दिनेश कार्तिक के स्थान पर। गंभीर ने कहा, ‘यह फैसला मुझे हैरान करता है। पंत को मौका मिलना चाहिए था। लेकिन ऐसे में दिनेश कार्तिक को बाहर बैठना चाहिए। विकेटकीपर के स्थान पर विकेटकीपर को मौका मिलना चाहिए था। आप अगर मेरी राय पूछें तो हार्दिक के स्थान पर दीपक हुड्डा को प्लेइंग इलेवन में जगह मिलनी चाहिए थी। वह दो-तीन ओवर भी फेंक सकते हैं।’

गंभीर ने कहा कि हुड्डा ने कुछ भी गलत नहीं किया है। उन्हें जितने मौके मिले हैं उन्होंने उनका पूरा फायदा उठाया है। पाकिस्तान के खिलाफ हार्दिक ने टीम इंडिया के लिए काफी उपयोगी पारी खेली थी।

गंभीर ने माना कि पंत अब सफेद गेंद से क्रिकेट में अपनी लय हासिल करने लगे हैं। उन्होंने कहा, ‘टेस्ट क्रिकेट में पंत अपना दम पहले ही दिखा चुके हैं। उन्होंने कई कमाल की पारियां खेली हैं। लेकिन अब धीरे-धीरे वह सफेद गेंद के क्रिकेट में भी कमाल दिखाने लगे हैं। आपको ऐसे खिलाड़ी को ज्यादा से ज्यादा मौके देने चाहिए। याद रखिए कि अगला टी20 वर्ल्ड कप ऑस्ट्रेलिया में होना है और वहां पंत का रिकॉर्ड बहुत अच्छा है।’

पाकिस्तान के खिलाफ मुकाबले में भारत ने नंबर चार पर बल्लेबाजी करने के लिए बाएं हाथ के रविंद्र जडे़जा को भेजा था। जडेजा ने उपयोगी पारी खेलकर भारत को जीत के करीब पहुंचाया था। हालांकि गंभीर मानते हैं कि अगर भारत ने उस मैच में भी पंत को मौका दिया होता और उन्हें नंबर चार पर बल्लेबाजी करने भेजा होता तो शायद मैच और जल्दी खत्म हो जाता।

गंभीर ने कहा, ‘सोचिए, नंबर चार आप आपने जडेजा को भेजा। अगर बाएं हाथ के बल्लेबाज के रूप में पंत आते तो भारत शायद काफी जल्दी मुकाबला जीत जाता।’