भारतीय टीम के पूर्व सलामी बल्लेबाज चाहते हैं युवा विकेटकीपर बल्लेबाज संजू सैमसन को राष्ट्रीय टीम में मौका देने में अब देरी ना की जाय। गंभीर ने ट्विटर के जरिए अपनी बात रखी। पूर्व क्रिकेटर का ये ट्वीट सैमसन के विजय हजारे टूर्नामेंट में रिकॉर्ड दोहरा शतक जड़ने के बाद सामने आया।

गंभीर युवा खिलाड़ियों को सही समय पर मौका दिए जाए और उन्हें प्रोत्साहित करने के समर्थक रहे हैं। उनके प्रयासों की वजह से ही भारतीय क्रिकेट को नवदीप सैनी जैसा नायाब गेंदबाज मिला है। सैमसन को लेकर गंभीर ने ट्विट किया, “घरेलू वनडे मैच में दोहरा शतक लगाने पर, शाबाद संजू सैमसन!!! ये खिलाड़ी प्रतिभा के साथ तेजी से आगे बढ़ रहा है और प्रतिभा को बहुत जल्द अवसर मिलना चाहिए।”

गोवा के खिलाफ 12 अक्टूबर को खेले गए मैच में केरल की ओर से खेलते हुए संजू सैमसन ने लिस्ट ए क्रिकेट में सबसे तेज दोहरा शतक लगाने का रिकॉर्ड बनाया। सैमसन ने मात्र 125 गेंदो पर 200 रन जड़े और सचिन तेंदुलकर, वीरेंद्र सहवाग, रोहित शर्मा, शिखर धवन और कर्ण कौशल की सूची में शामिल हो गए।

रांची टेस्ट से बाहर हुए केशव महाराज; जॉर्ज लिंडे को डेब्यू का मौका

24 साल के सैमसन 2015 में जिम्बाब्वे में खेले गए एक टी20 मैच के जरिए टीम इंडिया के लिए डेब्यू कर चुके हैं। हालांकि उसके बाद उन्हें वापसी का मौका नहीं मिला। फिलहाल टीम इंडिया में बतौर विकेटकीपर बल्लेबाज जगह पाने के लिए उन्हें रिषभ पंत से मुकाबला करना होगा।