Gautam Gambhir: winning test series in australia won’t be a big issue dispite steve smith, David warner presence
Steve Smith with David Warner @ Twitter

साल 2018 में विराट कोहली की कप्‍तानी वाली भारतीय टीम ऑस्‍ट्रेलिया गई तो वहां पहली बार टेस्‍ट सीरीज जीतने में सफल रही. इसके साथ ही भारत ऐसा करने वाला पहला एशियाई देश भी बन गया. अब कंगारू टीम के स्‍टार बल्‍लेबाज स्‍टीव स्मिथ और डेविड वार्नर बैन के बाद वापसी कर चुके हैं. पूर्व सलामी बल्‍लेबाज गौतम गंभीर को उम्‍मीद है कि स्मिथ-वार्नर की वापसी के बावजूद भारत ऑस्‍ट्रेलिया को फिर उन्‍हीं के घर में हराने में सफल रहेगा. भारत को दिसंबर में ऑस्‍ट्रेलिया का दौरा करना है. जहां बॉर्डर-गावस्कर ट्रॉफी के तहत चार टेस्‍ट मैच खेले जाएंगे.

रबाडा-मौरिस इस टूर्नामेंट से हटे पीछे, डीविलियर्स- डीकॉक करेंगे दो टीमों की कप्‍तानी

गौतम गंभीर ने कहा, “भारतीय टीम के पास ऐसे तेज गेंदबाज हैं जो किसी भी टीम को किसी भी परिस्थिति में परेशान कर सकते हैं. मुझे पूरी उम्मीद है कि पिछली सीरीज जीत के साथ हम ऑस्ट्रेलिया जाएंगे तो हम उन्हें काफी कड़ी चुनौती देंगे.”

गंभीर ने इसी साल ऑस्ट्रेलिया में होने वाले टी-20 विश्व कप पर भी अपनी राय रखी. विश्व कप का आयोजन इसी साल 18 अक्टूबर से 15 नवंबर के बीच होना है, लेकिन कोरोनावायरस के कारण इस पर काले बादल मंडरा रहे हैं.

है।

भाई के कोरोना संक्रमित पाए जाने के बाद BCCI अध्यक्ष सौरव गांगुली ने खुद को किया आइसोलेट

गंभीर ने कहा, “यह आसानी से लिए जाने वाले फैसले नहीं हैं. यह सोच समझकर लिए जाने वाले फैसले हैं. मुझे पूरी उम्मीद है कि आईसीसी जल्द ही इस पर अपना रुख साफ करेगी. यह जरूरी है कि वह फैसला लेने से पहले हर किसी को भरोसे में लें.”

भारत में क्रिकेट शुरू करने को लेकर गंभीर ने कहा, “व्यक्तिगत तौर पर मुझे लगता है कि जब सही समय हो भारत में क्रिकेट शुरू हो जाना चाहिए. यह हालांकि काफी सारी चीजों पर निर्भर करता है. मुझे पूरी उम्मीद है कि बीसीसीआई सभी कुछ सोच कर इस पर फैसला लेगी.”

“कोई भी जल्दी में नहीं हैं क्योंकि इंसान की जान ज्यादा प्यारी है. साथ ही कुछ क्रिकेट देश का मूड बदलने में मदद करेगी.”