Gautam Gamnbhir: It’s now or never for Dinesh Karthik
Dinesh Karthik © Getty Image

इंग्लैंड के खिलाफ पहले दो टेस्ट में हार के बाद भारतीय टीम की प्लेइंग इलेवन में बदलाव की चर्चा तेज हो गई हैं। इसमें सबसे पहला नाम युवा विकेटकीपर बल्लेबाज रिषभ पंत का है। कई पूर्व क्रिकेटर और फैंस भी यही चाहते हैं कि पंत को नॉटिंघम टेस्ट में खेलने का मौका मिले, हालांकि टेस्ट क्रिकेटर गौतम गंभीर इससे इत्तेफाक नहीं रखते हैं।

गंभीर ने टाइम्स ऑफ इंडिया के एक कार्यक्रम में कहा कि दिनेश कार्तिक को और मौके दिए जाने चाहिए। 2011 विश्व कप के हीरो गंभीर ने कहा, “किसी नए खिलाड़ी को टीम में लाने का लालच हमेशा ही रहेगा लेकिन दिनेश कार्तिक अपने करियर में ऐसे पड़ाव पर हैं जहां उनके लिए आर या पार का मामला है। अगर उन्हें एक-दो टेस्ट मैचों में मौके नहीं मिलते हैं तो आप शायद उन्हें दोबारा टीम में नहीं देखेंगे। रिषभ के पास अभी समय है। मैं कार्तिक को चुनूंगा। टीम में ज्यादा बदलाव करने से साफ दिखता है कि आप कितने परेशान हैं और बार-बार टीम बदल रहे हैं।”

नॉटिंघम में हो जसप्रीत बुमराह की वापसी

लॉर्ड्स मैच में उमेश यादव को बाहर कर दो स्पिन गेंदबाजों को खिलाना टीम इंडिया को भारी पड़ा। विराट कोहली ये गलती नहीं दोहराना चाहेंगे। वहीं गंभीर भी चाहते हैं कि तेज गेंदबाज जसप्रीत बुमराह तीसरे टेस्ट मैच में खेलें। उन्होंने कहा, “जसप्रीत बुमराह दक्षिण अफ्रीका सीरीज पर सबसे अच्छे गेंदबाज रहे थे, उन्हें तीसरे मैच में खेलना चाहिए। अगर वो फिट नहीं है तो उमेश यादव को वापस लाया जाय। टीम को हार्दिक या जडेजा में से एक को चुनना होगा। अगर दो स्पिनर खिलाने ही हैं तो मैं जडेजा के साथ जाउंगा क्योंकि वो ठीक ठाक बल्लेबाजी भी करता है।”

इंग्लैंड को हराया जा सकता है

गंभीर का कहना है कि इंग्लैंड टीम ने अपनी घरेल जमीन पर भी टॉप प्रदर्शन नहीं किया है। अगर भारतीय बल्लेबाज अच्छा प्रदर्शन करें तो उन्हें हराया जा सकता है। गंभीर ने कहा, ” इंग्लैंड अपने घर में भी एक टॉप टीम की तरह नहीं खेल रही है। उन्हें हराया जा सकता है। दूसरे मैच में भी हम जीत के काफी करीब थे। बल्लेबाजों को रन बनाने की जरूरत है क्योंकि गेंदबाज तो लगातार अच्छा प्रदर्शन कर रहे हैं। किसी एक खिलाड़ी को 100 रन बनाने की जरूरत नहीं है, अगर दो-तीन बल्लेबाज अच्छी पारियां खेलें तो जीत हासिल की जा सकती है। भारत के पास अब भी सीरीज बराबर करने का मौका है।”