© Getty Images
© Getty Images

बल्लेबाज अक्सर अजीबोगरीब तरीके से बैटिंग क्रीज पर खड़े रहते हुए बल्लेबाजी करते हैं। कई बल्लेबाजों का स्टांस (बैटिंग करते हुए खड़े रहने की मुद्रा) इतना अजीब रहता है कि देखने वाले सोचते हैं कि आखिर ऐसे कैसे कोई बल्लेबाजी कर सकता है। अगर ये बेवकूफी है लेकिन बल्लेबाज के लिए कारगर साबित हो जाती है तो इसे बेवकूफी नहीं कहेंगे। जबसे टी20 क्रिकेट आया है तबसे बल्लेबाजों ने नए शॉट ढूंढे तो नए तरीके की बैटिंग करने के दौरान खड़े होने वाली मुद्रा को भी इजाद किया है।

इससे कई बल्लेबाजों को गेंद को बेहतर तरीके से देखने में मदद मिलती है। मौजूदा समय में सबसे अजीबोगरीब स्टाइल ऑस्ट्रेलिया के स्टीवन स्मिथ का है जो हिलते-डुलते हुए बल्लेबाजी करते हैं। अगर एक दशक पहले कोई युवा स्टीवन स्मिथ की स्टाइल में नेट में बल्लेबाजी करता तो उसे कह दिया जाता कि जनाब अपना सिर ऊपर उठाकर बल्लेबाजी करिए। लेकिन अबतो ये सब चलता है।

पूर्व वेस्टइंडीज के बल्लेबाज शिवनारायन चंद्रपॉल ने भी एक अलग तरह की मुद्रा में खड़े होकर बैटिंग की और उसने दर्शकों का ध्यान खूब उनकी ओर खींचा। वह टेढ़ा खड़ा हुआ करते थे जिससे कि उनका सीना सीधे गेंदबाज के सामने होता था। और अब इस लिस्ट में एक और नया नाम जुड़ गया है।

हम बात कर रहे हैं ऑस्ट्रेलिया के पूर्व वनडे कप्तान जॉर्न बेली की। कुछ महीनों पहले की बात है जब बेली न्यूजीलैंड के खिलाफ एक मैच में गेंदबाज की ओर पीठ फेरकर बल्लेबाजी करते नजर आए थे। अब कल ही उन्होंने शैफील्ड शील्ड के एक मैच के दौरान फिर से उसी तरह के स्टांस (मुद्रा) के साथ बल्लेबाजी की। बैली ने पूरी पारी में बल्लेबाजी गेंदबाज की ओर लगभग पूरी पीठ फेरते हुए की। यह देखकर हर कोई हैरान रह गया। उन्होंने इस दौरान न्यू साउथ वेल्स के खिलाफ 71 रनों की पारी खेली। इस दौरान ऑस्ट्रेलिया टीम से बाहर चल रहे मैथ्यू वेड ने बैली का अच्छा साथ निभाया और 68 गेंदों में नाबाद 72* रन बनाए।