इंग्लैंड के खिलाफ निर्णायक वनडे मुकाबले में ऑस्ट्रेलिया को 73/5 की स्थिति से निकालकर मैचविनिंग शतक जड़ने वाले ग्लेन मैक्सवेल (Glenn Maxwell) ने इस पारी के दौरान गेंदो के मामले में सबसे तेज 3,000 वनडे रन बनाने का रिकॉर्ड दर्ज किया।

मैक्सवेल ने ओल्ड ट्रैफर्ड, मैनचेस्टर में खेले गए इस मैच में 303 रन के लक्ष्य का पीछा करते हुए 90 गेंदो पर 4 चौकों और 7 छक्कों की मदद से 108 रन बनाए।

इस पारी के दौरान मैक्सवेल ने वनडे में 3,000 रन भी पूरे किए। मैक्सवेल ने मात्र 2,440 गेंदो का इस्तेमाल कर 3000 वनडे रन बनाए और इंग्लिश विकेटकीपर जॉस बटलर (Jos Buttler) के 2,532 गेंदो पर 3,000 वनडे रन बनाने का रिकॉर्ड तोड़ दिया।

मैक्सवेल और बटलर के बाद गेंदो के मामले में सबसे तेज 3,000 रन बनाने वाले खिलाड़ियों की सूची में इंग्लैंड के जेसन रॉय (2,824 गेंद), जॉनी बेयरस्टो (2,842 गेंद), भारत के कपिल देप (2,957) और दक्षिण अफ्रीका के डेविड मिलर (2,997) का नाम है।

मैक्सवेल ने शतकीय पारी खेलने के साथ साथ विकेटकीपर बल्लेबाज एलेक्स कैरी के साथ मिलकर छठें विकेट के लिए 212 रनों की साझेदारी बनाई।

मैन ऑफ द मैच और प्लेयर ऑफ द सीरीज खिताब जीतने वाले मैक्सवेल ने कहा, “जब मैं क्रीज पर आया को वो आदर्श स्थिति नहीं थी। बाउंड्री छोटी थी, इसलिए हमने उसे निशाना। इसलिए एलेक्स और मैंने आखिर तक खेलने का फैसला किया।”

इस धमाकेदार ऑलराउंडर के बारे में कप्तान एरोन फिंच ने कहा, “मैक्सी इसी तरह की भूमिका निभाने के लिए टीम में है, अटैक करने और मूमेंटम वापस लाने के लिए। उसकी और कैरी की साझेदारी और जिस तरह से वो काम कर रहे हैं उस पर हमें बेहद गर्व है।” मैक्सी मैदान के चारों और खेल सकता है और