Glenn Maxwell shocked by spot-fixing allegations
Glenn Maxwell © Getty Images

ऑस्ट्रेलिया क्रिकेट टीम के बल्लेबाज ग्लेन मैक्सवेल ने एक इन्वेस्टिगेटिव डॉक्यूमेंट्री में अपने ऊपर स्पॉट फिक्सिंग के आरोपों से लगाए जाने पर हैरानी जताई है। वेबसाइट ‘ईएसपीएनक्रिकइन्फो’ की रिपोर्ट के अनुसार, मैक्सवेल ने इस बात का खुलासा भी किया कि उन्होंने इंडियन प्रीमियर लीग के दौरान भ्रष्टाचार विरोधी अधिकारियों को मैदान पर होने वाले संदिग्ध कार्यक्रमों की सूचना दी थी।

Virat Kohli’s Test record in England will improve: Alec Stewart
Virat Kohli’s Test record in England will improve: Alec Stewart

एक कथित टेलीविजन चैनल ‘अल जजीरा’ की ओर से जारी डॉक्टूमेंट्री में ऑस्ट्रेलिया के खिलाड़ियों पर भ्रष्टाचार के आरोप लगाए गए हैं। इसमें बताया गया है कि भारत के खिलाफ 2017 में रांची में हुए टेस्ट के दौरान ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ी स्पॉट फिक्सिंग में शामिल थे। इस मैच में टेस्ट टीम में वापसी के बाद मैक्सवेल ने पहला शतक लगाया था।

इस डॉक्टूमेंट्री में हालांकि, मैक्सवेल का नाम नहीं दर्शाया गया है। मैच फुटेज के कारण उन पर थोड़ा सा संदेह खड़ा कर दिया है कि वो स्पॉट फिक्सिंग में शामिल दो खिलाड़ियों में से एक थे। मैक्सवेल ने कहा कि क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया ने उन्हें इसकी जानकारी दी लेकिन भ्रष्टाचार विरोधी अधिकारियों ने उनसे इस मामले कोई सवाल नहीं किए।

‘एसईएन रेडियो’ को दिए बयान में मैक्सवेल ने कहा, “मैं काफी हैरान था और साथ ही थोड़ा दुखी भी था। जिस खेल से हमेशा आपकी अच्छी यादें जुड़ी रहती हैं। ऐसे खेल में आप पर इस प्रकार के आरोप लगना दुखद है। मुझे अब भी वो पल याद है, जब टेस्ट टीम में वापसी कर मैंने अपना पहला शतक लगाने के बाद स्टीवन स्मिथ को गले लगाया था। इस प्रकार के आरोप बेहद निराशाजनक हैं। निश्चित तौर पर इनमें कोई भी सच्चाई नहीं है। यह 100 प्रतिशत गलत हैं।”