Glenn Mcgrath back Indian pacers by saying they need to maintain patience
Glenn McGrath © IANS

ऑस्ट्रेलिया के पूर्व तेज गेंदबाज ग्लेन मैक्ग्रा (Glenn Mcgrath)  ने न्यूजीलैंड की पिच पर भारतीय गेंदबाजों को धर्य रखने की सलाह दी है। उन्होंने कहा कि एक खराब मैच रातों रात उन्हें खराब नहीं बनाता क्योंकि वे अभी भी विश्व स्तरीय गेंदबाज हैं। भारतीय टीम को न्यूजीलैंड के खिलाफ खेले गए अपने पहले टेस्ट मैच में 10 विकेट से करारी हार का सामना करना पड़ा था।

ग्लेन मैक्ग्रा ने कहा, “न्यूजीलैंड में स्विंग ज्यादा होती है और गति कम मिलती है। पिच पर घास भी थी और भारत टॉस भी हार गया। आपको अच्छी बल्लेबाजी करनी होगी और एकजुट होकर गेंदबाजी करनी होगी। केवल धर्य रखना होगा और सही जगह पर गेंदबाजी करनी होगी।”

पढ़ें:- दिल्‍ली हिंसा में अबतक 30 की गई जान, नाराज रोहित शर्मा ने दी यह प्रतिक्रिया

पहले टेस्ट मैच में इशांत शर्मा ने पांच विकेट लिए थे जबकि जसप्रीत बुमराह और मोहम्मद शमी ज्यादा प्रभाव नहीं छोड़ पाए थे।

ग्‍लेन मैक्ग्रा (Glenn Mcgrath) ने कहा, “मुझे अब भी भारतीय गेंदबाजी आक्रमण पर पूरा भरोसा है। उन्हें पिछले कुछ समय से चोटों से जूझना पड़ा है। इशांत वापसी कर रहे हैं और वो पांच विकेट चटकाने में सफल रहे। बुमराह को भी चोटें लगी थीं और वह वापसी कर रहे हैं। इसलिए हां, मुझे लगता है कि भारतीय गेंदबाजी आक्रमण विश्व स्तरीय है और इसमें कोई शक नहीं है।”

पूर्व ऑस्ट्रेलियाई गेंदबाज ने आगे कहा, “मुझे गेंदबाजी आक्रमण से कोई दिक्कत नहीं है। आप एक रात में फॉर्म नहीं गंवा देते। ये उन चीजों में शामिल रहा होगा जिसमें टॉस काफी अंतर पैदा करता है (न्यूजीलैंड में पहले टेस्ट में), लेकिन आपको फिर भी विकेट लेने और रन बनाने होते हैं।”

पढ़ें:- IPL के सबसे उम्रदराज खिलाड़ी प्रवीण तांबे के खेलने पर लगी रोक, BCCI ने बताई ये वजह

ऑस्ट्रेलिया के लिए 124 टेस्ट मैचों में 563 विकेट लेने वाले मैक्ग्रा ने इशांत की तारीफ करते हुए कहा, “इशांत ने पिछले दो वर्षों में शानदार तरीके से वापसी की है। मुझे लगा था कि उनका करियर अंतरराष्ट्रीय स्तर पर खत्म हो गया है लेकिन उन्होंने फिर से वापसी की और वह अच्छी गेंदबाजी कर रहे हैं।”

ग्लेन मैक्ग्रा (Glenn Mcgrath) ने कहा, “शमी काफी अच्छी रफ्तार से गेंदबाजी करता है और वो काफी अनुभवी भी है, वो खेल को अच्छी तरह समझता है। जसप्रीत भी छोटे रन अप से जैसे गेंदबाजी करता है, वो अलग ही है, वह गेंद को स्विंग कर सकता है, अच्छी तरह गेंद को निंयत्रित करता है।”