Graeme Smith: Todays Test batsmen lack patience, Virat kohli fights till the end
Virat Kohli (File Photo) © Getty Images

साउथ अफ्रीका के पूर्व कप्‍तान ग्रीम स्मिथ का मानना है कि आज के बल्‍लेबाजों में विदेशी जमीन पर खेलने के लिए संयम के साथ-साथ दिमाग की कमी है। क्रिकबज से बातचीत के दौरान स्मिथ ने कहा, “आज के बल्‍लेबाज होम टीम को सपोर्ट करने वाली कंडीशन में ड्यूक गेंद से धीरे-धीरे खेलकर रन बनाने में विश्‍वास नहीं रखते हैं। मुझे केवल इतना महसूस होता है कि नए जमाने के बल्‍लेबाजों में खुद पर नियंत्रण रखने की कमी है।”

ग्रीम स्मिथ ने कहा, “हमें एजबेस्‍टन में विराट कोहली के शतक को देखना चाहिए। कितने लंबे समय तक वो धीरे-धीरे खेलता रहा और परिस्थिति से लड़ता रहा। ऐसी परिस्थिति में आपको खेलने का मौका मिलता है तो आपको संभलकर खेलना होता है और गेम आपकी तरफ मुड जाता है।”

स्मिथ ने कहा, “आज के समय में कप्‍तान फील्डिंग बार-बार बदलता रहता है, क्‍योंकि उन्‍हें पता है कि आज के बल्‍लेबाजों को जल्‍दी जल्‍दी चौके चाहिए। बल्‍लेबाजों में दिमाग होना बेहद जरूरी है। कभी-कभी हमें ये मेहसूस करना होता है कि ठीक है, विकेट पर गेंद काफी स्विंग हो रहा है। ऐसे में हमें मैदान पर अच्‍छे से फाइट करने की जरूरत होती है।”

ग्रीम स्मिथ ने अपने टेस्‍ट करियर में 9,265 रन बनाए, जिसमें से 5,253 रन उन्‍होंने विदेशी जमीन पर बनाए। इस मामले में स्मिथ से आगे इंग्‍लैंड के एलिस्‍टर कुक हैं, जिन्‍होंने घर के मुकाबले विदेशी दौरों पर (5904) ज्‍यादा रन बनाए हैं।