क्रिकेट प्रशंसक © Getty Images
क्रिकेट प्रशंसक © Getty Images

1 जुलाई से गुड्स एंड सर्विसेज टैक्स यानि की जीएसटी पूरे देश में लागू हो जाएगा। इस टैक्स के लागू होने से कुछ चीजें महंगी होंगी तो कुछ चीजो के दाम कम होंगे। वैसे क्रिकेट फैंस के लिए जीएसटी एक झटके की तरह है क्योंकि जीएसटी के बाद स्टेडियम में जाकर क्रिकेट मैच देखना महंगा हो जाएगा। मैच के टिकट 28 फीसदी तक के कर दायरे में आएंगे खासकर इंडियन प्रीमियर लीग के मुकाबलों के टिकट पर इसकी सबसे ज्यादा मार पड़ेगी।

खेल संगठनों के आयोजन पर पहले 28 फीसदी टैक्स का प्रावधान था, लेकिन गुरुवार यानी 29 जून को हुई बैठक में इसे 18 फीसदी करने का फैसला किया गया मगर यहां सरकार ने एक शर्त रख दी। 18 फीसदी का टैक्स केवल उन्हीं मैचों के टिकटों पर लगेगा जहां टिकट की कीमत 250 रुपये से कम होगी। चूंकि क्रिकेट के तकरीबन सभी मुकाबलों में टिकट की कीमत 250 से ज्यादा होती है, खासकर आईपीएल के मैचों में तो टिकटों की कीमत काफी ज्यादा होती है इसलिए उनपर 28 फीसदी का ही टैक्स वसूला जाएगा। इसी तरह हॉकी लीग, कबड्डी लीग, रेसलिंग लीग जैसे आयोजनों के महंगे टिकटों पर भी 28 फीसदी टैक्स वसूला जाएगा। ये भी पढ़ें: साल 2019 का विश्व कप खेलने के लिए एबी डीविलियर्स को देनी होगी बड़ी ‘कुर्बानी’?

क्रिकेट मैच खासकर आईपीएल के दौरान मैदान पूरी तरह से भरे होते हैं। इन मैचों के टिकट भी महंगे होते हैं। पिछले कुछ सालों में मैदान पर जाकर मैच देखने वालों की संख्या बढ़ी है। ऐसे में सरकार को लगा कि यहां से रेवेन्यू कमाया जा सकता है। दूसरी ओर सरकार आम खेल प्रशंसकों को निराश भी नहीं करना चाहती इसलिए बीच का रास्ता निकाला गया और 250 रुपये से कम कीमत के टिकट पर 18 फीसदी तो अधिक पर 28 फीसदी का टैक्स निर्धारित किया गया।