Hamilton Masakadza after Test win: Our spinners performed better than Bangladesh spinners
Hamilton Masakadza (File Photo) © AFP

जिम्‍बाब्‍वे की टीम ने बांग्‍लादेश को उनके ही घर में टेस्‍ट मैच में 151 रनों से मात दी। ये 17 साल बाद जिम्‍बाब्‍वे की टेस्‍ट में अपने घर से बाहर जीत है। जिम्‍बाब्‍वे ने पांच साल बाद कोई टेस्‍ट मैच जीता है। पिछले कुछ समय में लगातार एक के बाद एक सीरीज हार रही जिम्‍बाब्‍वे की टीम के मनोबल को बढ़ाने के लिए ये काफी अच्‍छा है। जीत से जिम्‍बाब्‍वे के कप्‍तान हैमिल्‍टन मसाकाद्जा भी काफी उत्‍साहित हैं।

उन्‍होंने कहा, “डेब्‍यूटेंट ब्रैंडन मावुता और ऑफ स्पिनर सिकंदर रजा ने साथ मिलकर सात विकेट निकाले। हमारे स्पिन अटैक ने जीत में अहम भूमिका निभाई। मुझे लगता है कि जब से हम बांग्‍लादेश आए हैं तभी से हमारे गेंदबाज अच्‍छी गेंदबाजी कर रहे हैं। मुझे नहीं लगता हमारे गेंदबाजों ने ज्‍यादा गलतियां की हैं। ये देखकर अच्‍छा लगता है कि बांग्‍लादेश की पिचों पर हमारे स्पिन गेंदबाज मेजबान टीम के मुकाबले ज्‍यादा सफल रहे हैं।”

हैमिल्‍टन मसाकाद्जा ने कहा, “लड़कों ने अच्‍छा खेल दिखाया। मैच जीतने के लिए हमने बांग्‍लादेश के सामने पहली पारी में अच्‍छा स्‍कोर बनाया था। बल्‍लेबाजों ने विकेट पर समय बिताया और रन बनाए। वनडे में मैंने और मेरी टीम के बल्‍लेबाजों ने विकेट पर टिक कर रन नहीं बनाए। जिसके कारण हमें इसका खामियाजा भुगतना पड़ा।

ऑलराउंडर सीन विलियम्‍स की 173 गेंद पर 88 रन की पारी के कारण जिम्‍बाब्‍वे ने मैच में पहली पारी के आधार पर अच्‍छी बढ़त बना ली थी। उन्‍हें मैन ऑफ द मैच भी दिया गया। मैच के बाद सीन विलियम्‍स ने कहा, “मैच से पहले मैन ऑफ द मैच मिलने की उम्‍मीद तक नहीं की थी। इस जीत का जश्‍न हम मनाने वाले हैं। वनडे के दौरान यहां खेलना काफी मुश्किल हो रहा था। पिच पर समय बिताना इतना आसान नहीं था। टेस्‍ट के दौरान मैने इसमें सुधार किया। दुख की बात है कि मैं शतक पूरा करने में 12 रन से चूक गया।”