Hanuma Vihari becomes fourth Indian player to register fifty in debut test innings in England
Hanuma Vihari (File Photo) © PTI

टेस्‍ट सीरीज में पहले चार मैचों में मेजबान इंग्‍लैंड द्वारा 3-1 से अजेय बढ़त बनाने के बाद आखिरी मुकाबले में भारतीय टीम ने ऑलराउंडर हनुमा विहारी को मौका दिया। इंग्‍लैंड द्वारा पहली पारी में 332 रन बनाने के बाद भारतीय बल्‍लेबाज मैदान पर उतरे। एक बार फिर भारतीय टीम का फ्लॉप शो जारी रहा।

भारत ने 160 के स्‍कोर पर ही अपने छह विकेट खो दिए। शिखर धवन महज तीन तो उपकप्‍तान शून्‍य के स्‍कोर पर आउट होकर पवेलियन लौट गए। रिषभ पंत ने भी महज पांच रन का ही योगदान दिया। जिसके बाद मुश्किल स्थिति में फंसी भारतीय टीम को छठे नंबर पर खेलने आए डेब्‍यूटेंट हनुमा विहारी ने निकालने का प्रयास किया।

अर्धशतक जड़ आठवे विकेट के लिए बनाई 77 रन की साझेदारी

हनुमा विहारी का अपने पहली ही मैच में जादू देखने को मिला। विहारी ने मुश्किल घड़ी में टीम के लिए 56 रनों का अहम योगदान दिया। इस दौरान विहारी ने 124 गेंद खेली और सात चौके व एक छक्‍का भी लगाया। मोइन अली ने उन्‍हें 77वें ओवर में विकेटकीपर जॉनी बेयरस्‍टो के हाथों कैच आउट कराया। हनुमा विहारी ने स्पिन गेंदबाज रवींद्र जडेजा के साथ मिलकर आठवें विकेट के लिए 77 रन ही अहम साझेदारी बनाई। जडेजा मैदान पर 41 रन बनाकर खेल रहे हैं।

विशेष क्‍लब में शामिल हुए हनुमा विहारी

इस अर्धशतकीय पारी की मदद से हनुमा विहारी एक विशेष क्‍लब में शामिल हो गए हैं। हनुमा विहारी भारत के चौथे ऐसे खिलाड़ी बन गए हैं जिन्‍होंने इंग्‍लैंड की धरती पर करियर डेब्‍यू मैच में अर्धशतक जड़ा हो। इससे पहले साल 1996 में राहुल द्रविड़ और सौरव गांगुली ने इंग्‍लैंड में अपने करियर की शुरुआत करते हुए अर्धशतक लगाया था। ये कारनामा पहली बार साल 1946 में बल्‍लेबाज रुसी मोदी ने किया था। उन्‍होंने लॉर्ड्स टेस्‍ट में अर्धशतकीय पारी खेली थी।