Hanuma Vihari:Low expectations is great place to start from
hanuma-vihari (PTI Photo)

टीम इंडिया के लिए डेब्‍यू कर चुके हनुमा विहारी का कहना है कि वह आगामी आईपीएल में उस सोच को बदलने की कोशिश करेंगे कि वह टी-20 प्रारूप के लिए इतने अच्छे खिलाड़ी नहीं है।

पढ़ें: मेघालय के खिलाफ हिमाचल की जीत में चमके अंकुश और प्रशांत चोपड़ा

उनका कहना है कि वह ‘कम उम्मीदो’ से निपटने के लिए पूरी तरह तैयार हैं।

विहारी की आईपीएल में वापसी हुई है जो 23 मार्च से शुरू हो रही है। अपने अप्रभावी स्ट्राइक रेट के कारण नीलामी में तीन साल तक नहीं बिकने के बाद अब वह दिल्ली कैपिटल्स के लिए खेलते दिखेंगे।

विहारी ने कहा, ‘मुझे लगता है कि बीते समय में धीमे स्ट्राइक रेट के कारण लोगों को मुझसे ज्यादा उम्मीदें नहीं होंगी जो अच्छी चीज हो सकती है। मैं इसे सकारात्मक रूप से लेता हूं क्योंकि अब मेरे पास उन सभी को गलत साबित करने का मौका है।’

पढ़ें: मिजोरम पर असम की टीम ने दर्ज की 131 रन की बड़ी जीत

दिल्ली कैपिटल्स में स्टार सुसज्जित शीर्ष क्रम में शिखर धवन, पृथ्वी शॉ, कप्तान श्रेयस अय्यर और रिषभ पंत शामिल हैं।

विहारी को पता है कि अंतिम एकादश में जगह बनाना काफी मुश्किल होगा लेकिन वह फिनिशर की भूमिका निभाने के लिये तैयार हैं, उसी तरह से जैसे उन्होंने मेलबर्न में अपरिचित परिस्थतियों के बावजूद पारी का आगाज करने पर सहमति जताई थी।

उन्होंने कहा, ‘ईमानदारी से कहूं तो मैं तीन साल के अंतराल के बाद आईपीएल में खेलूंगा और मैं मैदान पर जाकर टीम प्रबंधन की इच्छा के अनुसार कहीं भी बल्लेबाजी करने के लिए तैयार हूं, भले ही यह शीर्ष क्रम हो या फिर फिनिशर की भूमिका हो।’