गौतम गंभीर
गौतम गंभीर

उसे हार पसंद नहीं, वो मैदान पर विरोधी को कभी नहीं बख्शता, उसके तेवर हैं गर्म और मिजाज है खासा गंभीर। हम बात कर रहे हैं टीम इंडिया के बल्लेबाज गौतम गंभीर की, जिनका आज जन्मदिन है। गौतम गंभीर 36 साल के हो गए हैं और भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड हो या फिर टीम इंडिया के खिलाड़ी सभी गौतम गंभीर को जन्मदिन की मुबारकबाद दे रहे हैं। गौतम गंभीर को शिखर धवन, कुलदीप यादव, हरभजन सिंह, सुरेश रैना और रोहित शर्मा ने भी गौतम गंभीर को जन्मदिन की बधाइयां दी।

भले ही गौतम गंभीर टीम इंडिया से बाहर हों लेकिन उन्होंने जो हिंदुस्तानी क्रिकेट के लिए किया है वो कोई नहीं भुला सकता। आपको बता दें गौतम गंभीर टीम इंडिया की दो सबसे बड़ी जीत में सबसे अहम योगदान देने वाले बल्लेबाज हैं। हम बात कर रहे हैं वर्ल्ड टी20 और आईसीसी वर्ल्ड कप 2011 की, जिनके फाइनल में गंभीर सबसे ज्यादा रन बनाने वाले खिलाड़ी थे। 2007 वर्ल्ड टी20 फाइनल में पाकिस्तान के खिलाफ उन्होंने 75 रनों की पारी खेली जबकि 2011 के वर्ल्ड कप फाइनल में भी उन्होंने श्रीलंका के खिलाफ 97 रन बनाए, जिसकी बदौलत टीम इंडिया ने दो बार दुनिया जीती।

2003 में अपने इंटरनेशनल क्रिकेट की शुरुआत करने वाले गौतम गंभीर ने क्रिकेट के तीनों फॉर्मेट में 242 मैच खेले और 10324 रन बनाए। इस दौरान गंभीर के बल्ले से कुल 20 शतक और 63 अर्धशतक निकले। टीम इंडिया में भले ही गौतम गंभीर की भूमिका एक ओपनर की रही लेकिन इंडियन प्रीमियर लीग में उनका एक अलग रूप देखने को भी मिला। गौतम गंभीर कोलकाता नाइट राइडर्स के कप्तान बने और उनकी लीडरशिप देख पूरी दुनिया हैरान रह गई। न्यूजीलैंड के खिलाफ वनडे, टी20 सीरीज में भी नहीं होगा युवराज सिंह का सेलेक्शन, जानिए क्यों?

 

गंभीर की कप्तानी में कोलकाता नाइट राइडर्स की कमजोर टीम 2012 और 2014 में आईपीएल चैंपियन बनी। वैसे गौतम गंभीर ने 5 मैचों में टीम इंडिया की कप्तानी भी संभाली और वो अजेय रहे। गंभीर की कप्तानी में टीम इंडिया ने पांचों मैच जीते। माना कि गौतम गंभीर अब टीम इंडिया में शायद ही वापसी कर पाएं लेकिन इंडियन प्रीमियर लीग में एक खिलाड़ी और एक कप्तान के तौर पर उनकी चमक अभी कुछ साल और दिखाई देगी।