न्यूजीलैंड के खिलाफ पहले टेस्ट मैच में शतकीय पारी खेलने वाले भारतीय बल्लेबाज श्रेयस अय्यर (Shreyas Iyer) ने कहा कि वो कानपुर टेस्ट मैच में अपने प्रदर्शन से खुश है, लेकिन भारत मैच जीतता तो हमारे लिए अच्छा होता। उन्होंने आगे कहा कि उनकी मानसिकता मैच के दौरान ज्यादा से ज्यादा गेंदें खेलने को लेकर थी।

अय्यर मैच के सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ी रहे, क्योंकि उन्होंने कीवी टीम के खिलाफ डेब्यू मैच में 105 और 65 रन बनाए। अय्यर ने मैच के बाद कहा, “ये बहुत अच्छा अहसास है लेकिन मैच जीतना हमेशा अच्छा होता है। हमारे गेंदबाजों ने अच्छी गेंदबाजी कीं।

दोनों पारियों में अपनी बल्लेबाजी के बारे में बात करते हुए अय्यर ने बताया, “मेरी मानसिकता सेशन खेलने और अधिक से अधिक गेंदें खेलने की थी। लोग कहते हैं कि मैं बहुत तेज खेलने वाला खिलाड़ी हूं, लेकिन मैंने खुद को स्थिति के हिसाब से ढालते हुए खेला। वहीं, मुझे अश्विन और साहा के साथ बल्लेबाजी करने में मजा आया।”

इसके बाद अय्यर ने कहा, “जिस तरह से हम एक कठिन स्थिति से बाहर आए, उस पर मुझे वास्तव में गर्व है। मैं टीम के समग्र प्रदर्शन से वास्तव में खुश हूं। दबाव हमेशा बना रहता है, उन्होंने शानदार शुरुआत की और पहले दो सेशन अच्छी तरह से खेले, लेकिन जब हमें एक विकेट मिल गया तो जल्दी ही और विकेट हासिल किए। इस तरह हमने स्थिति का सबसे अच्छा इस्तेमाल किया।

दो मैचों की सीरीज में भारत और न्यूजीलैंड 0-0 के बराबरी पर है। अब अगला मैच गुरुवार से मुंबई में खेला जाएगा, जहां भारत के पास सीरीज जीतने का मौका होगा।