Harbhajan Singh: Best chance for us to win in Australia without Steven Smith, and David Warner

भारतीय टीम के स्पिन गेंदबाज हरभजन सिंह का मानना है कि ऑस्‍ट्रेलिया के पूर्व कप्‍तान स्‍टीवन स्मिथ और उपकप्‍तान डेविड वार्नर की गैर मौजूदगी में भारतीय टीम के पास ऑस्‍ट्रेलिया में टेस्‍ट सीरीज जीतने का अच्‍छा मौका है।

केपटाउन टेस्‍ट मैच के दौरान सामने आए बॉल टेंपरिंग विवाद के बाद क्रिकेट ऑस्‍ट्रेलिया ने स्‍टीवन स्मिथ और डेविड वार्नर पर एक-एक साल का बैन लगा दिया था, जबकि बल्‍लेबाज कैमरून बैनक्रॉफ्ट पर भी नौ महीने का बैन लगा था।

ऑस्‍ट्रेलिया दौरे पर हरभजन सिंह ने चार टेस्‍ट मैच में नौ विकेट निकाले थे। आईएनएस से बातचीत के दौरान हरभजन सिंह ने कहा, “अगर हम ऑस्‍ट्रेलिया की धरती पर धमाकेदार बल्‍लेबाजी करेंगे तो निश्चित तौर पर जीत हमारी ही होगी। हमारे पास बेहद अच्‍छी बल्‍लेबाजी की स्‍ट्रेंथ है। हम इस बार ऑस्‍ट्रेलिया में जीत सकते हैं।”

उन्‍होंने कहा, “पृथ्‍वी शॉ की उम्र महज 18 साल है। इसके बावजूद भी मैंने उसे निडर होकर बल्‍लेबाजी करते हुए देखा है। अपनी उम्र के मुकाबले उसके अंदर काफी ज्‍यादा आत्‍मविश्‍वास है। ये इसलिए है क्‍योंकि वो स्‍कूल क्रिकेट और रणजी में काफी रन पहले ही बना चुका है। बीसीसीआई द्वारा बनाए गए क्रिकेट के मजबूत ढांचे को भी उसकी इस क्षमता का क्रेडिट दिया जाना चाहिए।”

भज्‍जी ने कहा, “आईपीएल में हमने रिषभ पंत को विरोधी टीम से मैच छीनते हुए देखा है। उसके अंदर ताकत और बैलेंस के अलावा वो सभी चीजें हैं जो एक बल्‍लेबाज के अंदर होनी चाहिए। वो चौकों और छक्‍कों से बात करता है। वो क्रिकेट में सभी फॉर्मेट में खेलने के लिए तैयार है। मौजूदा समय में वो महेंद्र सिंह धोनी से बहुत कुछ सीख सकता है।”

वेस्‍टइंडीज के खिलाफ टेस्‍ट सीरीज की बात करते हुए हरभजन सिंह ने कहा, “हम बेहद कमजोर विरोधी टीम के खिलाफ खेल रहे थे। नतीजों से ये साबित होता है कि दोनों मैच एकतरफा थे। वेस्‍टइंडीज कभी भी सीरीज में थी ही नहीं।”