Harbhajan Singh make serious allegation on punjab cricket association officers
Harbhajan Singh

भारत के पूर्व क्रिकेटर और पंजाब क्रिकेट संघ के मुख्य सलाहकार हरभजन सिंह ने शुक्रवार को एक पत्र लिखा, जिसके बाद हंगामा मचा है. हरभजन सिंह ने इस पत्र में आरोप लगाया है कि पंजाब क्रिकेट एसोसिएशन के कुछ अधिकारी ‘अवैध कार्यों’ में संलिप्त हैं । हरभजन ने पत्र में उन पदाधिकारियों का नाम नहीं लिया. पत्र पीसीए सदस्यों और संघ की जिला ईकाइयों को भेजा गया है।

राज्यसभा सांसद हरभजन सिंह ने मुख्यमंत्री भगवंत मान और आम आदमी पार्टी के राष्ट्रीय संयोजन दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को भी विस्तृत पत्र लिखा। उन्होंने पत्र में लिखा ,‘‘ लब्बोलुआब यह है कि पीसीए 150 सदस्यों को मताधिकार के साथ शामिल करना चाहता है ताकि उनका पलड़ा भारी रहे । यह सब मुख्य सलाहकार से सलाह लिये बिना या शीर्ष परिषद से पूछे बिना किया जा रहा है । यह बीसीसीआई संविधान, पीसीए के दिशा निर्देश के खिलाफ है और खेल ईकाइयों के पारदर्शिता के नियम का उल्लंघन भी है ।’’

उन्होंने कहा ,अपने अवैध कार्यों को छिपाने के लिये वे पीसीए की औपचारिक बैठकें नहीं बुला रहे हैं और खुद सारे फैसले ले रहे हैं ।’’पत्र के बारे में पूछने पर हरभजन ने पीटीआई से कहा ,‘‘ मुझे पिछले 10- 15 दिन से शिकायतें मिल रही है । मुझे मुख्य सलाहकार बनाया गया है लेकिन अधिकांश नीतिगत फैसलों के बारे में मुझे बताया नहीं जाता । मुझे सदस्यों और मुख्यमंत्री को पत्र लिखना पड़ा क्योंकि कोई और चारा नहीं था।