हार्दिक पांड्या © AFP
हार्दिक पांड्या © AFP

भले ही भारत के कप्तान विराट कोहली अकसर हार्दिक पांड्या की तुलना इंग्लैंड के ऑलराउंडर बेन स्टोक्स से करते हों, भले ही कोहली कहते हों कि पांड्या भारत के लिए वो कर सकते हैं जो स्टोक्स इंग्लैंड के लिए कर रहे हैं लेकिन पांड्या को लेकर सौरव गांगुली की सोच बिलकुल अलग है। गांगुली का मानना है कि पांड्या बेन स्टोक्स नहीं बल्कि भारत के जैक कैलिस बन सकते हैं। गांगुली ने कहा, ”पांड्या भारत के जैक्स कैलिस बन सकते हैं। पांड्या को कैलिस से प्रेरणा लेने की जरूत है। मेरा मानना है कि जो कैलिस ने दक्षिण अफ्रीका के लिए किया है वो पांड्या भारत के लिए कर सकते हैं। पांड्या बेहतरीन बल्लेबाज होने के साथ-साथ शानदार गेंदबाज और फील्डर भी हैं।”

ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ पहले वनडे में पांड्या ने अकेले दम पर मैच का पासा पलट दिया था और मुकाबले को भारत की झोली में डाल दिया था। पांड्या ने मुश्किल हालात में बल्लेबाजी करते हुए 66 गेंदों में ताबड़तोड़ 83 रनों की पारी खेली थी। इसके अलावा उन्होंने गेंदबाजी में भी कमाल दिखाते हुए 2 विकेट झटके थे। पांड्या को शानदार खेल के लिए मैन ऑफ द मैच के खिताब से भी सम्मानित किया गया था। पांड्या ने अब तक अपने करियर में 22 वनडे मैच खेले हैं और इस दौरान उन्होंने 39.10 की औसत और 129.90 के स्ट्राइक रेट के साथ 391 रन बनाए हैं। वहीं गेंदबाजी में भी उन्होंने 25 विकेट अपने नाम किए हैं। ये भी पढ़ें: टीम इंडिया को हराने के लिए ऑस्ट्रेलिया को प्रैक्टिस की जरूरत नहीं!

पहले वनडे के बाद दूसरे वनडे में भी भारत को पांड्या से ऑलराउंड खेल की उम्मीद होगी। दोनों देशों के बीच सीरीज का दूसरा वनडे मैच कोलकाता के ईडन गार्डन्स के मैदान पर खेला जाना है। कोलकाता के मैदानन पर पांड्या का रिकॉर्ड बेहतरीन है और उन्होंने इस मैदान पर अपने आखिरी मैच में बेहतरीन गेंदबाजी की थी। पांड्या ने कोलकाता में इंग्लैंड के खिलाफ 10 ओवरों में 49 रन देकर 3 खिलाड़ियों को आउट किया था। वहीं पांड्या लगातार 135 से ज्यादा की स्पीड से गेंदबाजी करते हैं और कुछ इसी रफ्तार से जैक कैलिस भी गेंदबाजी किया करते थे।