© AFP
© AFP

भारत के दिग्गज आलराउंडर कपिल देव ने कहा कि अगर हार्दिक पांड्या दक्षिण अफ्रीका में दूसरे टेस्ट की तरह बेवकूफाना गलतियां करना जारी रखते हैं तो वो उनके साथ तुलना का हकदार नहीं हैं। पांड्या को कई बार कपिल के बाद भारत का सर्वश्रेष्ठ आलराउंडर बताया गया है। कपिल ने सेंचुरियन में दूसरे टेस्ट में पांड्या के बल्लेबाजी प्रदर्शन की आलोचना की। उन्होंने ‘एबीपी न्यूज’ से कहा, ‘‘अगर पांड्या इस तरह की बेवकूफाना गलतियां करना जारी रखते हैं तो वो मेरे साथ तुलना का हकदार नहीं हैं।’’ कपिल दूसरी पारी में पांड्या के आउट होने के तरीके पर टिप्पणी कर रहे थे।

पांड्या तेज गेंदबाज लुंगी एनगिडी की बाहर जाती गेंद को स्लिप के ऊपर से खेलने की कोशिश में विकेटकीपर क्विंटन डी कॉक को कैच दे बैठे। पांड्या पहली पारी में भी रन आउट हुए क्योंकि उन्होंने क्रीज पर बल्ला नहीं रखा था और उनके इस लापरवाह रवैये के लिए पूर्व खिलाड़ियों ने उनकी आलोचना की थी। पूर्व भारतीय क्रिकेट संदीप पाटिल ने भी कहा कि दोनों की तुलना करना ठीक नहीं है क्योंकि अभी पांड्या के क्रिकेट करियर की शुरुआत है। उन्होंने कहा, ‘‘मैं कपिल के साथ काफी क्रिकेट खेला, सचमुच में कोई तुलना नहीं है। कपिल शानदार प्रदर्शन करते हुए 15 साल भारत के लिए खेला और पांड्या सिर्फ अपना पांचवां टेस्ट मैच खेला है। लंबा रास्ता तय करना है।’’

सेंचुरियन टेस्ट: भारत की 135 रनों से हार, सीरीज़ भी गंवाई
सेंचुरियन टेस्ट: भारत की 135 रनों से हार, सीरीज़ भी गंवाई

आपको बता दें टीम इंडिया ने दूसरे टेस्ट में भी घुटने टेक दिए और द.अफ्रीका से टेस्ट सीरीज गंवा दी। दूसरे टेस्ट में 287 रनों के लक्ष्य के जवाब में भारतीय टीम 151 रनों पर सिमट गई और सीरीज गंवा बैठी। टीम इंडिया के लिए दूसरी पारी में सबसे ज्यादा 47 रन रोहित शर्मा ने बनाए। मोहम्मद शमी ने 28 रनों की पारी खेली। पार्थिव पटेल और चेतेश्वर पुजारा 19-19 रन बनाकर आउट हुए। दक्षिण अफ्रीका की जीत के हीरो रहे लुंगी एन्गिडी, जिन्होंने अपने पहले ही टेस्ट मैच में 7 विकेट झटके। एन्गिडी ने दूसरी पारी में फाइव विकेट हॉल हासिल किया। उन्होंने 6 विकेट अपने नाम किए। (पीटीआई के इनपुट के साथ)