भारतीय टीम के युवा ऑलराउंडर हार्दिक पांड्या ने बीते साल करण जोहर के शो ‘कॉफी विद करण’ के दौरान महिलाओं के खिलाफ की गई अपनी अपमानजनक टिप्‍पणी को लेकर पहली बार प्रतिक्रिया दी. हार्दिक पांड्या ने कहा कि उस शो के बाद जो कुछ भी हुआ तब गेंद मेरे पाले में नहीं थी.

पढ़ें:- भारत के लिए उड़ान भरने से पहले एरोन फिंच का बड़ा बयान, कहा- हमने…

इंडिया टुडे से बातचीत के दौरान हार्दिक पांड्या ने कहा, “एक क्रिकेटर के तौर पर हमें नहीं पता था कि इससे क्‍या होने वाला है. चीजें मेरे हाथों में नहीं थी. चीजें अन्‍य लोगों के हाथों में थी, जिन्‍हें निर्णय लेना था. हमारे लिए चीजें काफी नाजुक थे. कोई भी ऐसी स्थिति में नहीं आना चाहेगा.”

बता दें कि हार्दिक पांड्या और केएल राहुल के शो के दौरान विवादित बयान के बाद बीसीसीआई ने उनहें बीते साल ऑस्‍ट्रेलिया दौरे के बीच में ही वनडे सीरीज से पहले वापस भारत बुला लिया था.

पढ़ें:- कोहली टेस्ट बल्लेबाजों की रैंकिंग में टॉप पर विराजमान, रहाणे और पुजारा को नुकसान

बीसीसीआई ने इस मामले में हार्दिक और राहुल के खिलाफ जांच समिति बैठा दी थी. इसके बाद काफी समय तक उन्‍हें टीम से बाहर रखा गया। CoA विनोद राय और लोढ़ा समिति की सिफारिशें ठीक से लागू नहीं होने के विवाद के कारण दोनों पर चल रही जांच काफी समय तक लटकी रही। जिसके बाद आगामी विश्‍व कप को देखते हुए हार्दिक और राहुल पर लगे प्रतिबंध को हटा दिया गया था.